Home » इंडिया » Jaish-e-Mohammad leadership in Kashmir Valley eliminated within 100 hours of Pulwama attack: Army
 

पुलवामा हमले के 100 घंटे के भीतर घाटी में सभी जैश कमांडर हुए ढेर : सेना

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2019, 11:39 IST

मंगलवार को भारतीय सेना, जम्मू कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ ने एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की. प्रेस कॉन्फ्रेंस में सेना ने कहा कि पुलवामा हमले के पीछे पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई और पाक सेना का हाथ हो सकता है. भारतीय सेना के कोर कमांडर कंवल जीत सिंह ढिल्लों ने कहा कि जिसने भी बंदूक उठाई है, उसे मार दिया जाएगा या समाप्त कर दिया जाएगा.

उन्होंने कहा ''मैं सूचित करना चाहूंगा कि #Pulwama आतंकवादी हमले के 100 घंटे से भी कम समय में, हमने घाटी में JeM नेतृत्व को समाप्त कर दिया है, जो पाकिस्तान चलाया जा रहा था. भारतीय सेना के कोर कमांडर केजेएस ढिल्लों ने कहा ''14 फरवरी को पुलवामा में जिस प्रकार का कार बम हमला हुआ, वह कश्मीर में लंबे समय के बाद हुआ. इस प्रकार के हमलों से निपटने के लिए हम सभी विकल्प खुले रखेंगे.''

इस दौरान सेना ने कहा कि कश्मीर में जो भी घुसपैठ करेगा वह ज़िंदा वापस नहीं जायेगा. सेना ने कहा कि पुलवामा हमले के दौरान आतंकी कामरान को पाकिस्तान की आईएसआई से लगातार निर्देश मिल रहे थे.  

सेना ने कहा कि हम नहीं चाहते है कि सेना की कार्रवाई में कोई बेगुनाह नागरिक मारा जाए. उन्होंने कहा कि सेना के पास सरेंडर पॉलिसी है और आतंकी सरेंडर करें. सेना ने कहा कि नागरिकों की सुरक्षा के कारण ही ज्यादा जवान शहीद हुए हैं. सेना ने नागरिकों से अपील की कि वह मुठभेड़ वाली जगहों से दूर रहे.

सभी जैश कमांडर ढेर 

इस दौरान सेना कि खुलासा किया कि जैश कमांडर कामरान गाजी मारा गया है. यही नहीं सेना ने कहा कि कश्मीर में सेना जैश के सभी टॉप कमांडरों को ढेर कर दिया है. सेना ने जैश को पाकिस्तानी बच्चा वताया. इस दौरान सीआरपीएफ ने कहा ''हमारी हेल्पलाइन -14411 इस हमले के मद्देनजर पूरे देश में कश्मीरियों की मदद कर रही है. कश्मीरी छात्रों में से ज्यादातर ने पूरे देश में इस हेल्पलाइन के लिए संपर्क किया है. बाहर पढ़ने वाले सभी कश्मीरी बच्चों की सुरक्षा बलों द्वारा देखभाल की गई है.

PM मोदी आज वाराणसी दौरे पर, शहीद रमेश के परिजनों से करेंगे मुलाकात

 

First published: 19 February 2019, 11:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी