Home » इंडिया » Pulwama Attack: National Security Advisor Ajit Doval is monitoring the situation in Kashmir
 

अजीत डोभाल को कहा जाता है सबसे तेज-तर्रार NSA, उनके कार्यकाल में हुए 6 बड़े आतंकी हमले

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 February 2019, 19:14 IST

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर आतंकियों ने CRPF के काफिले पर आत्मघाती हमला किया. इस हमले में 20 से ज्यादा जवानों के शहीद होने की खबर है. इसके अलावा 40 से ज्यादा जवानों के घायल होने की आशंका है. यह उड़ी से भी बड़ा हमला माना जा रहा है.

साल 2014 में मोदी सरकार बनने के बाद यह छठा ऐसा बड़ा आतंकी हमला है जिससे देश में भूचाल आ गया है. इसके साथ ही मोदी सरकार पर सवाल उठने लगे हैं. साथ ही सरकार आने के बाद देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पर भी सवाल उठ रहे हैं. 

बता दें कि अजीत डोभाल के बारे में मीडिया में खूब बड़ी-बड़ी खबरें चली थीं. उनके एनएसए बनने के बाद कहा गया था कि देश को एक तेज-तर्रार एनएसए मिला है. देश की आंतरिक सुरक्षा हो या आतंक के खात्मे की बाद खुद एनएसए डोभाल इस पर पैनी नजर रखते देखे जाते रहे हैं. उरी हमले और पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले के बाद भी वह खूब चर्चा में आए थे. 

मोदी सरकार के कार्यकाल में हुए सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भी अजीत डोभाल की खूब वाहवाही की गई थी. कहा गया था कि सर्जिकल स्ट्राइक उनके ही दिमाग की उपज थी. लेकिन उनके कार्यकाल में देश ने छ: बड़े आतंकी हमले देखे, यह भी सोचने की बात है.

गुरदासपुर: 26 मई को मोदी सरकार ने शपथ ली थी इसके बाद 30 मई को अजीत डोभाल को देश का एनएसए बनाया गया था. इसके लगभग एक साल बाद जुलाई 2015 में आतंकियों ने गुरदासपुर में एक यात्री बस पर हमला कर दिया था. तीन आतंकवादियों ने इस हमले को अंजाम दिया और इसमें 7 लोग मारे गए थे.  

पठानकोट: जनवरी 2016 में पठानकोट में वायु सेना के एयरबेस पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने हमला किया था. इसमें 3 जवान शहीद हो गए थे.

कोकराझार: असम के कोकराझार में साल 2016 में एक हमले में 14 नागरिकों की मौत हो गई थी. इसे नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड के उग्रवादियों ने किया था.
 
उरी: इसके बाद साल 2016 में उरी में भारतीय सेना के ठिकाने पर आतंकियों ने हमला किया था जिसमें 19 सैनिक शहीद हो गए थे. 
 
अमरनाथ: जुलाई 2017 में अमरनाथ यात्रा के बाद एक बस पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था. इसमें 7 लोग मारे गए थे.
First published: 14 February 2019, 19:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी