Home » इंडिया » Pulwama Attack: Pakistan Foreign Min Shah Mahmood Qureshi write a letter to UN Secretary-General
 

पुलवामा हमले के बाद भारत के तेवर से खौफ में आया पाकिस्तान, संयुक्त राष्ट्र से मांगी मदद की भीख

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2019, 17:38 IST

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए हमले के बाद भारत की कार्रवाई के डर से पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से हस्तक्षेप करने की अपील की है. पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस को पत्र लिखकर दोनों देशों के बीच तनाव कम करने में मदद मांगी है.

पाक विदेश मंत्री कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र को लिखे पत्र में लिखा, "मैं भारत द्वारा पाकिस्तान के खिलाफ बल प्रयोग के खतरे के कारण हमारे क्षेत्र में खराब हो रहे सुरक्षा हालात की ओर आपका ध्यान आकर्षित करता चाहता हूं. भारत के CRPF जवानों पर हमला स्पष्ट तौर पर एक कश्मीरी निवासी ने किया है. भारत ने भी यही कहा है."

कुरैशी ने कहा कि जांच से पहले ही इस हमले के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराना बेतुकी बात है. उन्होंने लिखा कि भारत सरकार ने अपने घरेलू राजनीतिक कारणों से पाकिस्तान के खिलाफ अपनी शत्रुतापूर्ण बयानबाजी जानबूझकर दी है. भारत ने तनावपूर्ण स्थिति पैदा किया है. भारत ने यह भी संकेत दिया है कि वह सिंधु जल संधि से पीछे हट सकता है.

 

दरअसल, 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था, जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्मेदारी पाकिस्ता समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. हमले के बाद पूरा देश गुस्से में है. भारतीय सेना ने भी सीधे तौर पर इस हमले मेें पाकिस्तानी सेना और ISI को जिम्मेदार ठहराया है.

पढ़ें- पुलवामा अटैक: जब कपिल शर्मा ने सिद्धू का किया सपोर्ट तो लोगों ने कहा- 'इसे भी भेजो पाकिस्तान'

हमले के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है. यहां तक कि दोनों देशों ने अपने-अपने उच्चायुक्तों को वापस बुला लिया है. आज भारतीय सेना ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि पुलवामा हमले के पीछे पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई और पाक सेना का हाथ है. 

First published: 19 February 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी