Home » इंडिया » Pulwama: Major VS Dhoundiyal's wife salutes him lost his life in an encounter
 

शहीद मेजर की शादी को नहीं हुआ था साल भर, पत्नी के रोते-रोते सूख गए आंसू, अंतिम विदाई देकर बोलीं- I LOVE U

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2019, 12:11 IST

कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों से एनकाउंटर में शहीद हुए मेजर वीएस ढौंडियाल को आखिरी विदाई देने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी. दरअसल, 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद से ही सुरक्षाबलों ने एक्शन शुरू कर दिया है. इसके बाद एक दिन पहले पुलवामा में ही सुरक्षाबलों और आतंकियों की मुठभेड़ हुई.

सोमवार को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराया गया. वहीं सेना के 5 जवान शहीद हो गए. इन जवानों में देहरादून के मेजर वीएस ढौंडियाल भी शहीद हुए हैं. मेजर का पार्थिव शरीर सोमवार रात को उनके घर पहुंचा.

 

मेजर का पार्थिव शरीर उनके घर पहुंचते ही घर में मातम का माहौल हो गया. मेजर को आखिरी विदाई देने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी. साल भर पहले ही उनकी शादी हुई थी. शहीद मेजर की अंतिम विदाई के दौरान उनकी पत्नी काफी भावुक हो गईं. उन्होंने अपने पति को आखिरी सलाम किया. अंतिम यात्रा के दौरान पत्नी ने उनका ताबूत चूमा और I LOVE YOU बोला.

पढ़ें- अब बॉलीवुड में काम नहीं कर पाएंगे पाकिस्तानी एक्टर ! सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने लगा दिया बैन

बता दें कि मेजर ने पिछले साल ही अप्रैल में नितिका कौल से शादी की थी. निकिता दिल्ली में एक बहुराष्ट्रीय कंपनी में काम करती हैं. नितिका सोमवार सुबह देहरादून से दिल्ली अपने जॉब के लिए निकली थीं, लेकिन रास्ते में ही उन्हें मेजर के शहीद होने की खबर मिली और वह देहरादून वापस लौटीं.

सोमवार को हुए एनकाउंटर में मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल, हवलदार सेवा राम और सिपाही हरि सिंह और अजय कुमार शहीद हो गए थे. मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने पुलवामा आतंकी हमले के मुख्य साजिशकर्ता और जैश कमांडर कामरान उर्फ गाजी राशिद को मार गिराया था. करीब 18 घंटे पुलवामा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चली, जिसमें कुल 3 आतंकियों को ढेर कर दिया गया.

पढ़ें- पुलवामा अटैक: क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने कायम की मिसाल, शहीदों की विधवाओं को भेजा पैसा

सेना के वरिष्ठ अधिकारी ने मेजर को याद करते हुए उन्हें सेना का एक बहादुर अधिकारी बताया. उन्होंने कहा कि वह अधिकारी था जो ऑपरेशन में नेतृत्व करते हैं. मेजर ढौंडियाल बेहद बुद्धिमान और बहादुर थे. 

First published: 19 February 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी