Home » इंडिया » Pulwama Revenge: JeM's Yusuf Azhar targeted by IAF Air Strike in Balakot was the most wanted in India
 

वायुसेना की कार्रवाई में मारे गए मसूद अजहर के साले युसुफ को लेकर बड़ा खुलासा, 1999 में प्लेन हाईजैक..

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 February 2019, 15:10 IST

पुलवामा हमले का बदला लेते हुए भारतीय वायु सेना ने पीओके में घुसकर एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया. जिसमें 200-300 आतंकी मारे गए हैं. सूत्रों के हवाले से खबर है कि इस कार्रवाई में जैश सरगना मसूद अजहर के साले मौलाना युसूफ अजहर उर्फ उस्ताद गोहरी भी मारा गया है. हालांकि अभी उसके मारे जाने की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. 

भारतीय वायुसेना ने बालाकोट, चकोठी और मुजफ्फराबाद में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के प्रशिक्षण कैंपों पर हमले किए. भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविर चलने के खुफिया इनपुट्स मिले थे. यहां बड़ी संख्या में आतंकी मौजूद थे.

 

गोखले ने बताया कि बालाकोट आतंकी शिविर को जैश सरगना मौलाना मसूद अजहर का करीबी रिश्तेदार अजहर यूसुफ उर्फ उस्ताद गौरी चला रहा था. वह मसूद अजहर का साला था. आपको बता दें कि युसुफ अजहर 1999 में भारतीय विमान आईसी 814 के अपहरण में भी शामिल था. उसके खिलाफ भारत में अपहरण और हत्या के मामले दर्ज हैं.

युसूफ अजहर इंटरपोल की सूची में सर्वाधिक वांछनीय अपराधी के तौर पर शामिल था. भारत सरकार ने साल 2002 में पाकिस्तान को 20 भगोड़े आतंकियों की सूची सौंपी थी. इसमें भी यूसुफ अजहर का नाम था. वहीं साल 2000 में सीबीआई के अनुरोध पर इंटरपोल ने उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था. वह उर्दू और हिंदी बोलने में माहिर था.

Pulwama Revenge: भारत के एयरस्ट्राइक से पाक संसद में हुई PM इमरान खान की बेइज्जती

First published: 26 February 2019, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी