Home » इंडिया » Pulwama Terror Attack: Israel offers help for India against terrorism
 

अब पाकिस्तान की खैर नहीं ! आतंकियों के लिए काल इस देश ने बिना शर्त की भारत को मदद की पेशकश

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 February 2019, 18:59 IST

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 से ज्यादा जवानों ने अपनी जान गंवा दी. इसके बाद से ही देशभर में गुस्से का माहौल है. भारतीय सेना ने इसके लिए सीधे तौर पर पाकिस्तान और पाकिस्तानी सेना को जिम्मेदार ठहराया है. पुलवामा आतंकी हमले के बीच कई देशों ने भारत के समर्थन का एलान किया है.

इस बीच आतंकियों के लिए काल इजरायल ने बिना शर्त भारत को समर्थन की पेशकश की है. इजरायल ने भारत को आतंकवाद के खिलाफ खुद का बचाव करने के लिए बिना शर्त मदद की पेशकश करते हुए कहा कि उसकी सहायता की कोई सीमा नहीं. इजराइल के नवनियुक्त राजदूत डॉ रॉन मलका ने कहा कि उनका देश आतंकवाद से पीड़ित भारत की किसी भी सीमा तक मदद कर सकता है.

पढ़ें- पुलवामा अटैक: जब कपिल शर्मा ने सिद्धू का किया सपोर्ट तो लोगों ने कहा- 'इसे भी भेजो पाकिस्तान'

इजराइल की सेना अपनी सटीक कार्रवाई के लिए दुनियाभर में मशहूर है और उसकी सेना आतंकियों के लिए काल मानी जाती है. इजरायल के राजदूत मलका ने पिछले हफ्ते कहा, "भारत को अपनी रक्षा के लिए जो आवश्यकता है, उसकी कोई सीमा नहीं है. हम अपने करीबी मित्र भारत को विशेष तौर पर आतंकवाद के खिलाफ बचाव करने में मदद करने के लिए तैयार हैं क्योंकि आतंकवाद विश्व की समस्या है, न कि सिर्फ भारत और इजराइल की."

बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था, जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी.

पढ़ें- पुलवामा हमले के बाद भारत के तेवर से खौफ में आया पाकिस्तान, संयुक्त राष्ट्र से मांगी मदद की भीख

हमले के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है. यहां तक कि दोनों देशों ने अपने-अपने उच्चायुक्तों को वापस बुला लिया है. वहीं भारत की कार्रवाई के डर से पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र से हस्तक्षेप करने की अपील की है. पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस को पत्र लिखकर दोनों देशों के बीच तनाव कम करने में मदद मांगी है.

First published: 19 February 2019, 18:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी