Home » इंडिया » Punjab and Haryana HC has dismissed petition and said there is nothing wrong in UdtaPunjab
 

अनुराग कश्यप: कल से उड़ेगी 'उड़ता पंजाब'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST

सिनेमाघरों में प्रदर्शन से एक दिन पहले पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से भी उड़ता पंजाब की रिलीज का रास्ता साफ हो गया है. हाईकोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है.

फिल्म निर्माताओं के वकील संजय कौशल ने कहा, "अदालत ने माना है कि उड़ता पंजाब फिल्म में कुछ भी गलत नहीं है. फिल्म पंजाब की बुरी छवि पेश नहीं करती. न ही यह महिलाओं के खिलाफ है."

सुप्रीम कोर्ट का भी इनकार

इससे पहले पंजाब के एक गैर सरकारी संगठन ने बुधवार को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. सुप्रीम कोर्ट ने एनजीओ की याचिका पर कोई राहत नहीं देते हुए फिल्म की रिलीज पर रोक से इनकार कर दिया.

सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता एनजीओ से कहा कि वो इस मामले में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में जाएं, जहां इस मामले में पहले से याचिका लंबित है.

इस बीच फिल्म उड़ता पंजाब के निर्माता अनुराग कश्यप ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा है, "कल से उड़ेगी फिल्म उड़ता पंजाब. उड़ता पंजाब केवल सिनेमाघरों में!"

हाईकोर्ट से हरी झंडी

सोमवार को फिल्म उड़ता पंजाब को एक कट के साथ बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिलीज करने की हरी झंडी दी थी. केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के साथ फिल्म के निर्माताओं का विवाद चल रहा था.

हाईकोर्ट ने इस मामले में फिल्म के निर्माताओं की याचिका पर फैसला देते हुए तीन डिस्क्लेमर और एक कट के साथ फिल्म को पास कर दिया है.

बॉम्बे हाईकोर्ट ने केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड को निर्देश दिया था कि फिल्म उड़ता पंजाब को दो दिन के अंदर नया सर्टिफिकेट जारी किया जाए. इस मामले में सेंसर बोर्ड की ओर से रोक लगाने की मांग को भी हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था. 

सिर्फ एक कट के साथ मंजूरी

कट नंबर 9 पर कोर्ट ने सेंसर बोर्ड का सुझाव मानते हुए हाईकोर्ट ने कहा, "टॉमी सिंह का भीड़ के सामने पेशाब करने वाला सीन हमें नहीं लगता कि यह जरूरी है."

हाईकोर्ट ने कहा था, "अगर फिल्म निर्माता किसी समस्या को उठाना चाहते हैं, तो उस पर दखल देने का अधिकार किसी को नहीं है, जब तक रचनात्मकता की आजादी का दुरुपयोग नहीं होता."

अदालत ने टिप्पणी करते हुए कहा, "कट नंबर छह की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि यहां सामान्य शब्दों (एमपी, एमएलए, संसद आदि) का जिक्र किया गया है. जो किसी संगठन या संस्था के संदर्भ में नहीं है. ये सामान्य राजनीतिक क्रिया-कलाप है."

पंजाब की ड्रग्स समस्या पर फिल्म

हाईकोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए कहा कि सेंसर बोर्ड की कट नंबर 8 की सलाह गैर जरूरी है. ड्रग्स के इंजेक्शन का केवल एक क्लोज अप सीन दिशा-निर्देशों का उल्लंघन नहीं है.

बॉम्बे हाईकोर्ट ने टिप्पणी की, "पंजाब हरित क्रांति और बहादुर सैनिकों की धरती है. एक वाक्य (जमीन बंजर ते औलाद कंजर) इस छवि को प्रभावित नहीं कर सकता."

निर्देशक अभिषेक चौबे की फिल्म 'उड़ता पंजाब' में शाहिद कपूर, आलिया भट्ट, करीना कपूर और दिलजीत दोसांज ने अभिनय किया है. यह फिल्म पंजाब में युवाओं के बीच बढ़ रहे ड्रग्स के चलन की समस्या पर बनी है.

First published: 16 June 2016, 4:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी