Home » इंडिया » Punjab and Haryana High court orders to Punjab Police to file FIR against self styled godwoman Radhe Maa.
 

पंजाब-हरियाणा कोर्ट ने राधे मां के खिलाफ दिया FIR दर्ज करने का आदेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 September 2017, 19:17 IST

खुद को देवी का अवतार कहने वाली राधे मां की मुश्किलें बढ़ना तय है. पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने पंजाब पुलिस को आदेश दिया है कि वो राधे मां के खिलाफ एफआईआर दर्ज करें. 

हाई कोर्ट ने पंजाब पुलिस को यह आदेश फगवाड़ा निवासी सुरिंदर मित्तल की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया. मित्तल ने कोर्ट में याचिका दायर की थी. उनका आरोप है कि ‘राधे मां’ उन्हें लगातार धमकी दे रही थीं कि वो उनके खिलाफ बात नहीं करें.

ये था मामला

राधे मां ने करीब15 साल पहले पंजाब के फगवाड़ा में एक जागरण किया था. इस दौरान वहां राधे मां का विरोध शुरू हो गया. ये प्रदर्शन तीन घंटे बाद तब खत्म हुआ था, जब राधे मां ने माफी मांग ली. इस विरोध की अगुवाई सुरिंदर मित्तल ने ही की थी. सुरिंदर मित्तल का आरोप है कि उनके फोन पर राधे मां लगातार उन्हें परेशान करने वाले वॉट्सऐप मैसेज और कॉल्स करती रही हैं.

गौरतलब है कि राधे मां को इस मामले में दो साल पहले पंजाब पुलिस ने पूछताछ के लिए समन भेजा था. सुरिंदर ने अगस्त 2015 में पंजाब पुलिस से राधे मां के खिलाफ शिकायत की थी.

विवादों से हैं राधे मां का नाता

राधे मां’ का असली नाम सुखविंदर कौर है. पिछले साल सुखिंदर कौर पर एक 32 साल की महिला ने आरोप लगाया था कि राधे मां उसके ससुराल वालों को दहेज मांगने के लिए उकसा रही हैं. सुखविंदर ने सारे आरोपों से इनकार किया था. बता दें कि सुखविंदर उर्फ राधे मां मुंबई के बोरीवली में माता की चौकी पर दरबार लगाती हैं.

First published: 5 September 2017, 19:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी