Home » इंडिया » Punjab: At least 58 killed as train hits crowd standing on track celebrating Dussehra in Amritsar
 

पंजाब : इस लापरवाही से हुआ अमृतसर में रावण दहन के दौरान बड़ा हादसा, जांच के आदेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 October 2018, 1:40 IST

पंजाब के अमृतसर में शुक्रवार को रावण दहन के दौरान एक बड़ा हादसा हो गया, जिसमें ट्रेन की चपेट में आने से 60 लोगों के मौत की खबर है. हादसे में 72 से ज्यादा लोगों के घायल होने की भी खबर है. पीटीआई की खबर के अनुसार अमृतसर के जोडा फाटक के पास यह हादसा उस वक्त हुआ जब लोग रेलवे की पटरी पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे, उसी वक्त वहां से लोकल ट्रेन गुजरी और कई लोग ट्रेन की चपेट में आ गए.

ख़बरों के अनुसार उस वक्त वहां रावण दहन देखने के लिए लगभग 300 लोग मौजूद थे. अधिकारियों का कहना है कि मौत का आंकड़ा अभी बढ़ भी सकता है. अमृतसर पुलिस आयुक्त एसएस श्रीवास्तव ने एएनआई को बताया, "सटीक आंकड़ा ज्ञात नहीं है लेकिन यह निश्चित रूप से 50 से 60 से बीच लोगों की जान गई है.

जब दुर्घटना हुई तो रेलवे पटरियों के साथ दशहरा समारोह आयोजित किया जा रहा था जो जलंधर से अमृतसर जाने वाली के रास्ते में था. अधिकारियों ने कहा कि रावण का पुतला जलाया जा रहा था तब पटाखे जलने से लोग पटरियों पर आ गए थे. इस दौरान विपरीत दिशा से दो ट्रेने आ गई. पटाखों के शोर से लोग ट्रेन की आवाज नहीं सुन पाए और ट्रेन की चपेट में आ गए.

रेलवे राज्य मंत्री मनोज सिंह ने कहा कि रेलवे ट्रैक के पास खड़े लोगों ने आने वाली ट्रेन की आवाज नहीं सुनी क्योंकि एक ही समय में पटाखे फट रहे थे. भारतीय रेल ने दुर्घटना के चलते 0183-2223171 और 0183-2564485 हेल्पलाइन नंबर जारी किए है. केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि उन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका में सभी मीटिंग्स रद्द कर दी हैं और तुरंत भारत लौट रहे हैं.

 

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने गृह सचिव, स्वास्थ्य सचिव और पुलिस महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) से अमृतसर जाने के लिए कहा है. राहत की निगरानी के लिए मुख्यमंत्री ने संकट प्रबंधन समूह की स्थापना की. समूह का नेतृत्व स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा कर रहे हैं.

अमरिंदर सिंह ने घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा की है साथ ही उन्होंने कहा कि वह राहत एवं बचाव अभियान के व्यक्तिगत निरीक्षण के लिए मौके पर जा रहे हैं. इसके मद्देनजर शनिवार को राज्य में सभी सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने ट्विटर पर कहा, अमृतसर में ट्रेन हादसे से बेहद दुखी हूं. यह दुख भरी घटना दिल दहलाने वाली है.' मेरी संवेदनाएं उन परिवारों के साथ हैं जिन्होंने अपने परिजन को खोया है और मैं घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. जरूरतमंद लोगों को तत्काल सहायता पहुंचाने का निर्देश अधिकारियों को दिया गया है.'प्रधानमंत्री ने मृतक के परिवार के लिए 2 लाख रुपये और दुर्घटना में घायल लोगों के लिए 50,000 रुपये की मंजूरी दे दी.

ट्रेन हादसे के बाद नॉदर्न रेलवे ने 6 ट्रेनें रद्द कर दी हैं और 2 को डायवर्ट कर दिया है. घटनास्थल पर रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा भी पहुंच चुके हैं. नॉदर्न रेलवे ने पीड़ितों और उनके परिवारों की सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं. ये - 01123342954, 01123341074, 01142622280 व 1072, रेलवे नंबर 22280 हैं.

First published: 20 October 2018, 1:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी