Home » इंडिया » Puri Hawrah Shatabdi’s 40 Passengers Fall ill after taking breakfast 14 hospitalised
 

पुरी-हावड़ा शताब्दी ट्रेन में खाना खाकर 40 यात्री बीमार, दर्जनों अस्पताल में भर्ती

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2018, 12:29 IST

रेलवे और सरकार के तमाम दावों के बाद भी भारतीय रेलवे को शायद आपके स्वास्थ्य की जरा भी फिक्र नहीं है. इसीलिए रेलवे में मिलने वाले खाने को लेकर आए दिन सवाल उठते रहते हैं. एक बार फिर रेलवे के खाने ने सिद्ध कर दिया है कि वाकई ये खाने लायक नहीं है. इस बार रेलवे का खाना खाने से 40 यात्री बीमार हो गए. 14 लोगों की तबियत इतनी बिगड़ गई कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

खराब खाना मिलने की घटना पुरी-हावड़ा शताब्दी एक्सप्रेस में घटी. जब ट्रेन में सुबह 7 बजे यात्रियों को नाश्ता परोसा गया. रेलवे का नाश्ता खाने से करीब 40 लोग बीमार हो गए. जिनमें से 14 लोगों की ज्यादा तबियत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती करवाया गया. ये सभी यात्री ट्रेन के कोच नंबर सी-1 और सी-2 में सफर कर रहे थे. यात्रियों ने नाश्ते के बाद जब पेट दर्द और उल्टी की शिकायत की तो ट्रेन के खड़गपुर पहुंचने पर करीब 11.45 बजे रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया.

रेलवे के मुताबिक ये खाना IRCTC की ओर से सप्लाई किया गया था. इस खाने को पुरी स्टेशन पर ट्रेन में लोड किया गया था. मामला सामने आने के बाद रेलवे ने खाने के सैंपल लिए हैं. साथ ही आरोपियों को खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाया है. खड़गपुर के जीआरएम के राबिन कुमार रेड्डी ने कहा है कि हम इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि कहीं वेंडर ने बाहर से खाना तो नहीं लिया.

रेड्डी का ये भी कहना है कि कुछ यात्री हॉकर्स से भी खाना ला सकते हैं, वहीं यात्रियों का कहना है कि उन्होंने वही खाना खाया है जो ट्रेन में परोसा गया है. यात्रियों के मुताबकि भुवनेश्वर के बाद सुबह के नाश्ते में उन्हें ऑमलेट और ब्रेड परोसा गया था. इसे खाने के बाद पेट में दर्द शुरू हो गया और कई लोगों को उल्टी होना शुरु हो गई. रेलवे ने मामले की जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात कही है.

ये भी पढ़ें- CM योगी का आरोप- शिवसेना ने पीठ में घोंपा खंजर तो उद्धव ने कहा- चप्पल से मारेगी जनता

First published: 24 May 2018, 11:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी