Home » इंडिया » Racial comment against Manipuri girl Monika Khangembam, Sushma Swaraj apologises
 

'पक्का इंडियन हो', मणिपुरी लड़की से इमिग्रेशन अफसर के सवाल पर सुषमा ने मांगी माफी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(फेसबुक)

मणिपुर की लड़की पर नस्लभेदी टिप्पणी के मामले में विवाद के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने माफी मांगी है. दरअसल दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन अफसर ने मणिपुर की मोनिका नाम की लड़की पर नस्लीय टिप्पणी की थी.

फेसबुक पर जब मोनिका खांगेमबम ने इस मामले को लेकर पोस्ट किया, तो वो वायरल हो गया. मोनिका ने फेसबुक पोस्ट के जरिए बताया कि उनके साथ यह घटना शनिवार को आईजीआई एयरपोर्ट के टी-3 टर्मिनल पर हुई.

बतौर मोनिका, जब वे इमिग्रेशन डेस्क पर पहुंचीं, तो उनसे इमिग्रेशन ऑफिसर ने पूछा- पक्का इंडियन हो? मोनिका ने इस अधिकारी से जब ये कहा कि वे लेट हो रही हैं, उन्हें जाने दिया जाए तो इस पर अफसर ने कहा कि एयरक्राफ्ट आपको छोड़कर नहीं जा रहा, आराम से जवाब दीजिए.

'मणिपुर से कितने राज्य सटे हैं?'

मोनि‍का ने इस दौरान जब कहा कि वे मणिपुर की हैं, तो इमिग्रेशन अफसर ने उनसे पूछा, "अच्छा ये बताओ कि मणिपुर के बॉर्डर से कितने राज्य सटे हैं. इन राज्यों के नाम बताओ?" 

मोनिका खांगेमबम का फेसबुक पोस्ट जिसमें उन्होंने नस्लवादी टिप्पणी का आरोप लगाया (फेसबुक)

इंफाल की रहने वाली मोनिका का ये फेसबुक पोस्ट जमकर शेयर किया गया और लोगों ने इस पर अपना गुस्सा भी जाहिर किया. मोनिका ने सोशल मीडिया पर मिले समर्थन पर आभार जताते हुए अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए शुक्रिया अदा किया है.

मोनिका खांगेबबम ने समर्थन के लिए फेसबुक पोस्ट के जरिए लोगों का शुक्रिया अदा किया (फेसबुक)

मामले के तूल पकड़ने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर इस मामले पर मोनिका खांगेमबम से माफी मांगी. 

सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा, "मोनिका- इसके लिए मैं माफी चाहती हूं. इमिग्रेशन मेरे पास नहीं है."

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अगले ट्वीट में यह भी कहा कि वे इस मामले पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात करेंगी. सुषमा ने कहा, "मैं अपने वरिष्ठ सहयोगी राजनाथ सिंह जी से इस मामले पर बात करूंगी और उनसे कहूंगी कि एयरपोर्ट पर संवेदनशील अफसरों को तैनात किया जाए."

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने कहा है कि दिल्ली एयरपोर्ट की इमिग्रेशन डेस्क के द्वारा मणिपुरी लड़की के खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी और बदसलूकी की रिपोर्ट उन्हें मिली है. इस बारे में विस्तृत जानकारी मांगी गई है.

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में पूरी जानकारी मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी.

First published: 11 July 2016, 10:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी