Home » इंडिया » Rafale Aircraft is the world's most dangerous fighter aircraft, China and Pakistan will be scared
 

राफेल विमान है दुनिया का सबसे खतरनाक लड़ाकू विमान, चीन और पाकिस्तान के दांत हो जाएंगे खट्टे

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2020, 12:13 IST

Rafale Figher Aircraft: भारत के खतरनाक लड़ाकू विमान राफेल को आज आधिकारिक तौर पर भारतीय वायुसेना में शामिल कर लिया गया है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने औपचारिक रूप से भारतीय वायु सेना (IAF) में पांच राफेल लड़ाकू विमानों को शामिल कराया. राफेल 29 जुलाई को फ्रांस से भारत आया था.

अंबाला एयर फोर्स बेस पर इंडक्शन समारोह आयोजित किया गया. मुख्य अतिथि के रूप में फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली शामिल हुईं. राफेल लड़ाकू विमान ’गोल्डन एरो’ स्क्वाड्रन का हिस्सा होंगे. फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ली को इस दौरान गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. राफेल विमानों ने समारोह के दौरान अंबाला के आसमान में अपना करतब दिखाया. 

राफेल विमान अपनी शक्ति में बढ़-चढ़कर आगे है. 18 सालों बाद भारतीय वायुसेना में विदेशी लड़ाकू विमान शामिल हुआ है. राफेल की बेहतरीन खूबियां उसे कई दूसरे लड़ाकू विमानों से बेहतर बनाती हैं. राफेल बॉर्डर पार किए बिना ही बालाकोट जैसी स्ट्राइक कर सकता है. यह एक मल्टीरोल एयरक्राफ्ट है. 

राफेल की स्पीड है तूफान

राफेल की रफ्तार 2,130 प्रतिघंटा है. रडार पर अपनी लोकेशन दिए बिना यह दुश्मन को चकमा दे सकता है. यह एक मिनट में 60 हजार फीट की ऊंचाई तक जा सकता है. सबसे खास बात यह है कि राफेल परमाणु हमले को भी अंजाम दे सकता है. इसके अलावा यह एयर टू एयर और एयर टू ग्राउंड में हमला करने की जबरदस्त क्षमता रखता है.

राफेल बॉर्डर पार किए भी दुश्मन देश में 300 किलोमीटर तक लक्ष्य को भेद सकता है.  भारत के पास चीन और पाकिस्तान पर राफेल की वजह से बढ़त है. राफेल में हवा से हवा और हवा से जमीन पर निशाना लगाने की जो क्षमता है, वैसी चीन और पाकिस्तान के पास क्षमता है. राफेल कई घातक हथियारों को एक साथ कैरी कर सकते हैं.

राफेल लड़ाकू विमान 24500 किलोग्राम का वजन एक साथ ले जाने में सक्षम है. राफेल पाकिस्तान के f-16 से बहुत बेहतर हैं. इसे चीन के J-20 से भी काफी आगे माना जा रहा है. राफेल में 150 किमी तक हवा से हवा में मार करने वाली एक सक्षम मिसाइल है. वहीं हवा से जमीन में मार करने वाला स्कैल्प मिसाइल भी इसमें है.

भारतीय वायुसेना में आज शामिल होंगे पांच राफेल लड़ाकू विमान, कार्यक्रम में शामिल होंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

आसमान की ऊंचाइयों में उड़ान भरकर लड़ाकू फाइटर एयरक्राफ्ट राफेल हुआ भारतीय वायुसेना में शामिल

First published: 10 September 2020, 12:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी