Home » इंडिया » Rafale Deal: 'PM Modi's office had intervened in the deal, defense ministry had opposed'
 

राफेल सौदा : 'PM मोदी के दफ्तर ने किया था डील में हस्तक्षेप, रक्षा मंत्रालय ने किया विरोध'

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 February 2019, 12:12 IST

फ्रांस के साथ हुए राफेल सौदे को लेकर एक बार फिर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला बोला है. एक दिन पहले ही लोकसभा में पीएम मोदी ने राफेल डील का जिक्र किया था. अब यह मुद्दा मामला लोकसभा चुनाव से पहले एक बार फिर से गरमा गया है. शुक्रवार को राहुल गांधी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि ''मोदी जी ने 30, 000 करोड़ रुपये चुराए हैं. रक्षा मंत्रालय ने एक रिपोर्ट में साफ कहा है कि पीएम मोदी राफेल मामले में फ्रांस के साथ समानांतर वार्ता कर रहे थे.''

राहुल गांधी ने कहा कि अब सच्चाई सामने आ गई है''. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी झूठ बोला. पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति ओलांद ने स्वीकार किया था कि उन्हें खुद पीएम मोदी द्वारा अनिल अंबानी को चुनने के लिए कहा गया था''. प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ''सशस्त्र बलों के भाइयों और बहनों. आप हमारे रक्षक हैं. आप भारत के लिए अपनी जिंदगी कुर्बान करते हैं. आप हमारी शान हैं. कृपया 10.30 बजे आज मेरी प्रेस कांफ्रेंस लाइव देखें.''

दरअसल अख़बार द हिन्दू ने एक बड़ा खुलासा किया है. अख़बार ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि फ्रांस के साथ रक्षा मंत्रालय द्वारा किये जा रहे राफेल सौदे के दौरान पीएमओ ने हस्तक्षेप किया था. रिपोर्ट में कहा गया है कि 7.87 बिलियन डॉलर के इस सौदे में पीएमओ के हस्तक्षेप का रक्षा मंत्रालय ने विरोध किया था. रिपोर्ट में कहा गया है कि इसका लाभ फ्रांस को मिला. रिपोर्ट के अनुसार पीएमओ द्वारा इस तरह की समानांतर चर्चा को 24 नवंबर, 2015 को जारी रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के संज्ञान में लाया गया था.

दरअसल अख़बार द हिन्दू ने एक बड़ा खुलासा किया है. अख़बार ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि फ्रांस के साथ रक्षा मंत्रालय द्वारा किये जा रहे राफेल सौदे के दौरान पीएमओ ने हस्तक्षेप किया था. रिपोर्ट में कहा गया है कि 7.87 बिलियन डॉलर के इस सौदे में पीएमओ के हस्तक्षेप का रक्षा मंत्रालय ने विरोध किया था. रिपोर्ट में कहा गया है कि इसका लाभ फ्रांस को मिला. रिपोर्ट के अनुसार पीएमओ द्वारा इस तरह की समानांतर चर्चा को 24 नवंबर, 2015 को जारी रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के संज्ञान में लाया गया था.

SC ने नागेश्वर राव को किया तलब, CJI गोगोई ने कहा- अब भगवान आपकी मदद करे 

First published: 8 February 2019, 11:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी