Home » इंडिया » Rahul Gandhi attacked on Mamata Banerjee ove corruption but now come in support
 

Video: PM मोदी और CBI का विरोध करने के चक्कर में अपनी ही बात से पलटे राहुल गांधी

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 February 2019, 12:10 IST

सारदा घोटाले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम मोदी और सीबीआई का विरोध करने के चक्कर में अब अपने ही बयान से पलटते नजर आ रहे हैं. एक जमाने में सारदा घोटाले को लेकर राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमलावर रहे राहुल गांधी अब उनके समर्थन में उतर आए हैं.

दरअसल, सारदा घोटाले को लेकर कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर सीबीआई की टीम पहुंची थी. जिसके बाद पश्चिम बंगाल में विवाद पैदा हो गया है. राजीव कुमार के घर सीबीआई टीम पहुंचने के बाद ममता बनर्जी कोलकाता में धरने पर बैठ गई हैं. वहीं कांग्रेस सहित बाकी विपक्षी दल ममता के समर्थन में उतर आए हैं.

 

कांग्रेस अध्यक्ष ने ममता बनर्जी से फोन पर बात करते हुए उनके प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया और कहा कि पूरा विपक्ष एकजुट है और यह फासीवादी ताकतों को हराएगा. गांधी ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल का घटनाक्रम भारत की संस्थाओं पर पीएम मोदी एवं भाजपा के निरंतर हमलों का हिस्सा है. राहुल ने ट्वीट किया, "पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा रहेगा और इन फासीवादी ताकतों को हराएगा."

इसके अलावा सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, तेजस्वी यादव समेत कई विपक्षी नेताओं ने ममता बनर्जी से बात कर इस लड़ाई में उनके साथ खड़े रहने का आश्वासन दिया है.

 

बता दें कि साल 2016 में राहुल गांधी ने भ्रष्टाचार मामले में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि भ्रष्टाचार की बात करने वाली ममता बनर्जी अब खुद आरोपियों की रक्षा में खड़ी हैं. यहां तक कि कांग्रेस के टि्वटर अकाउंट पर वह ट्वीट अभी भी मौजूद है.

पढ़ें- ममता vs CBI: क्या है शारदा चिटफंड घोटाला, जानें क्यों भिड़ी सीबीआई और कोलकाता पुलिस

इस ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा था, "ममता जी कहती थीं, भ्रष्टाचार को बंगाल से मिटा दूंगी, लेकिन जब उन्हें भ्रष्टाचार दिखाई दिया, उनके सामने उनके लोगों ने चोरी की तो ममता जी ने उन पर एक्शन नहीं लिया. उल्टा उनकी पूरी रक्षा की." एक रैली में ममता बनर्जी पर बरसते हुए राहुल गांधी का वीडियो भी सामने आया था.

First published: 4 February 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी