Home » इंडिया » Rahul gandhi says BJP Govt collected 10 Lakh Crore in taxes on Petrol/LPG/Diesel since 2014
 

'लालची मोदी सरकार ने टैक्स के नाम पर जनता से लूटे 10 लाख करोड़ रुपए'

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 May 2018, 15:57 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर पेट्रोल, एलपीजी व डीजल पर 10 लाख करोड़ रुपये का कर वसूल कर ईंधन के नाम पर जनता को 'लूटने' का आरोप लगाया और कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट के बावजूद उसका फायदा सरकार ने आम जनता को नहीं दिया.

राहुल ने एक ट्वीट में कहा, "भाजपा सरकार ने 2014 से पेट्रोल/एलपीजी/डीजल पर कर के रूप में 10,00,000 करोड़ रुपये वसूले हैं. लेकिन हमारे नागरिकों को कीमतों में कोई राहत नहीं दी गई." राहुल ने ट्विटर पर एक मिनट बयालिस सेकेंड का वीडियो साझा किया और कहा कि 'यह वीडियो प्रधानमंत्री मोदी के तहत ईंधन कीमतों की सच्चाई दिखाता है.'

वीडियो से पता चलता है कि मोदी सरकार के चार सालों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें 67 प्रतिशत से ज्यादा गिरने के बावजूद भी पेट्रोल, डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं.

 

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि ईंधन की बढ़ती कीमतें केंद्र सरकार की विफलता का प्रतीक हैं. उन्होंने कहा, "अच्छे दिन का वादा करने वाली सरकार चुप है. आइए पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर भाजपा को उसके रुख का ध्यान दिलाएं. पेट्रोल की बढ़ती कीमतें केंद्र सरकार की विफलता का प्रतीक हैं. लोग नाराज हैं और इसका दूसरे क्षेत्रों पर नकारात्मक असर पड़ेगा."

राहुल ने वीडियो में आरोप लगाया है कि हर साल 50,000 करोड़ रुपये कर के जरिए एकत्र किए जाते हैं, लेकिन सरकार पेट्रोल की कीमतों को नहीं घटा रही है. उन्होंने कहा, "सत्ता में आने के बाद मोदी सरकार ने गैस, डीजल व पेट्रोल पर कर लगाकर आम जनता से 10,00,000 करोड़ रुपये लूटे हैं. मोदी सरकार ने 2014 से पेट्रोल पर केंद्रीय कर 8.78 रुपये लीटर व डीजल पर 10.37 रुपये लीटर बढ़ा दिए हैं."

 

राहुल ने वीडियो में कहा है कि कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने पेट्रोल पर 3.11 रुपये प्रति लीटर व डीजल पर 1.03 रुपये प्रति लीटर राज्य कर बीते पांच सालों में कम कर दिए हैं.

पढ़ें- कर्नाटक चुनाव में BJP के सबसे ज्यादा क्रिमिनल और करोड़पति उम्मीदवार, रिपोर्ट में खुलासा

वीडियो में कहा गया है, "करीब 18.11 करोड़ एलपीजी उपभोक्ता लालची मोदी सरकार के तहत परेशान हैं. सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर दिल्ली में 491.35 रुपये, बेंगलुरू में 427 रुपये (कर्नाटक में करों में कमी के कारण). गैर सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर दिल्ली में 635.5 रुपये, बेंगलुरू में 622.5 रुपये (कर्नाटक में करों में कमी के कारण)हैं." वीडियो में कहा गया है कि 'भाजपा निर्दयी है, वह ईंधन के नाम पर लूट रही है.'

First published: 7 May 2018, 15:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी