Home » इंडिया » Rahul Gandhi targets government over Rafael deal
 

राहुल का राफेल को लेकर बीजेपी पर फिर वार, कहा- PM मोदी के खिलाफ हो जांच

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 March 2019, 10:54 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज राफेल मुद्दे को लेकर प्रेस कांफ्रेस किया. इस दौरान उन्होंने कहा, "एक नई लाइन है 'गायब हो गया'. 15 लाख रूपए जो लोगों के बैंक खातों में आनी थी, वह गायब हो गई. किसान गायब हो गया, डोकलाम गायब हो गया. कल बहुत ही दिलचस्प बात हुई. कल कहा गया कि राफेल की फाइलें गायब हो गईं. ऐसा लगता है कि सरकार का केवल एक काम है कि जो चौकीदार है उसे बचाकर रखना है."

राफेल को लेकर काफी दिनों से सियासत गरमाई हुई है. राफेल को लेकर राहुल गांधी का कहना है कि UPA के सौदे में राफेल विमान समय पर आता. अनिल अंबानी की वजह से राफेल विमान आने में देरी हो रही है. रक्षा मंत्रालय की फाइल में लिखा है कि प्रधानमंत्री राफेल पर सामानांतर बातचीत कर रहे थे. गोवा के मुख्यमंत्री के पास सौदे की फाइलें कैसे हैं? राहुल गांधी का कहना है कि इस घोटाले में प्रधानमंत्री की जांच होनी चाहिए. प्रधानमंत्री के साथ-साथ सभी लोगों की जांच होनी चाहिए. यदि वह सच्चे हैं तो जांच से क्यों डर रहे हैं. हमारी संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की मांग को उन्होंने क्यों नहीं माना?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सवाल करते हुए पूछा कि एक तरफ आप कहते हैं कि दस्तावेज गायब हैं. इसका मतलब है कि दस्तावेज असली हैं और उनमें साफतौर पर लिखा है के प्रधानमंत्री कार्यालय सामानांतर बातचीत कर रहा था. उन्होंने कहा गायब हुए दस्तावेजों के मामले में जो दोषी हैं उनके खिलाफ कार्रवाई कीजिए, लेकिन pmo के खिलाफ भी जांच कीजिए जो सामानांतर बातचीत कर रहे थे.

राहुल गांधी ने कहा कि राफेल की फाइलें गायब हो गईं. ऐसा कहा गया कि आपके (मीडिया) खिलाफ जांच की जाएगी क्योंकि राफेल की फाइलें गायब हैं, लेकिन जो शख्स 30,000 करोड़ रुपये के घोटाले में शामिल है उनके खिलाफ कोई जांच नहीं की जाएगी.'

First published: 7 March 2019, 10:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी