Home » इंडिया » Rajasthan: Big charge- 'Vasundhara called the legislators and said, support Gehlot'
 

राजस्थान: बड़ा आरोप- 'वसुंधरा ने फोन कर विधायकों से कहा, गहलोत का समर्थन करें'

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2020, 12:23 IST

Rajasthan Crisis : राजस्थान में चल रहे सियासी घमासान के बीच इस पूरे मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की तरफ से अभी कोई बयान नहीं आया है. हालांकि राजे के दो नजदीकी विधायकों का इस पूरे प्रकरण पर बयान जरूर आया है, जिसमें सचिन पायलट के बयान पर आपत्ति जताई और पायलट को एक जिम्मेदार नेता की तरह आचरण करने की सलाह दी गई है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सहयोगी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) के प्रमुख हनुमान बेनीवाल ने राजे पर बड़ा आरोप लगाया है. हनुमान बेनीवाल ने राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार को बचाने का आरोप लगाया है.

बेनीवाल ने कहा "कांग्रेस विधायकों के करीबी रिश्तेदारों ने हमें बताया कि वे शुरू में पायलट के साथ थे, लेकिन वसुंधरा राजे ने उन्हें फोन किया और उन्हें पायलट से दूरी बनाने के लिए कहा." एक ट्वीट में बेनीवाल ने कहा ''सीकर और नागौर के जाट विधायकों को राजे ने सचिन पायलट से दूरी बनाने को कहा है, जिसके पुख्ता प्रमाण हमारे पास हैं''. एक अन्य ट्वीट में बेनीवाल ने कहा कि पूर्व सीएम वसुंधरा राजे अशोक गहलोत सरकार को बचाने की पुरजोर कोशिश कर रही हैं. राजे ने कई कांग्रेसी विधायकों को फोन भी किये हैं. इससे पहले एक इंटरव्यू में सचिन पायलट ने भी गहलोत पर बंगला खाली करने के मामले में वसुंधरा की मदद का आरोप लगाया था. 


भाजपा नेता गुलाब चंद कटारिया ने बेनीवाल के आरोपों को आधारहीन बताया है. उन्होंने कहा कि वह राजे के संपर्क में हैं, जो इस समय धौलपुर में है, और आवश्यकता पड़ने पर वह जयपुर में मौजूद रहेंगी''. बेनीवाल ने आरोप लगाया ''प्रदेश व देश की जनता वसुंधरा-गहलोत के आंतरिक गठजोड़ को समझ चुकी है''.ताजा घटनाक्रम में कांग्रेस पार्टी ने सचिन पायलट को बड़ा झटका देते हुए उनके गुट के दो विधायकों को सस्पेंड कर दिया है. कांग्रेस ने सचिन पायलट का समर्थन करने वाले अपने दो बागी विधायकों भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह पर कड़ी कार्रवाई की और उन्हें पार्टी से निकाल दिया.

विश्वेंद्र सिंह कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री थे. उनसे मंगलवार को ही पार्टी ने कैबिनेट मंत्री का दर्जा भी छीन लिया था. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए पार्टी के फैसले के बारे में जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कांग्रेस पार्टी ने फैसला लिया है कि भवंरलाल और विश्वेंद्र सिंह को पार्टी से निलंबित कर दिया जाए.

राजस्थान: सचिन पायलट को बड़ा झटका, उनके गुट के दो विधायकों को कांग्रेस ने किया निलंबित

First published: 17 July 2020, 12:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी