Home » इंडिया » Rajasthan Political Crisis: Sachin Pilot meets Rahul and Priyanka Gandhi Before Floor Test
 

Rajasthan Political Crisis: तेजी से बदला सियासी घटनाक्रम, सचिन पायलट ने की राहुल और प्रियंका गांधी से मुलाकात

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 August 2020, 18:04 IST

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान विधानसभा के प्रस्तावित सत्र के कुछ दिनों पहले ही राजस्थान का सियासी घटनाक्रम (Rajasthan Political Crisis) एक बार फिर तेजी से बदलता हुआ दिखाई दे रहा है. खबरों के अनुसार, राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी  (Rahul Gandhi) और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi ) से सोमवार दोपहर मुलाकात की है.

बता दें, 14 अगस्त से राजस्थान विधानसभा का सत्र आरंभ होने वाला हैं, जिसमें गहलोत सरकार को अपना बहुमत साबित करना पड़ेगा. ऐसे में सचिन पायलट और राहुल गांधी की इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है. हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने बताया कि दिल्ली में हुई इस मीटिंग में क्या बातचीत हुई इसको लेकर अभी कुछ साफ नहीं है, हालांकि, दोनों मिले हैं तो कुछ पॉजिविट जरूर निकलेगा.


गौरतलब है कि सचिन पायलट ने 19 विधायकों के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के खिलाफ खुली बगावत की, जिसके बाद राज्य की सरकार अल्पमत में आ गई थी. हालांकि, कांग्रेस पार्टी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साफ किया था कि उनकी सरकार पर कोई खतरा नहीं है और उनके पास बहुमत से अधिक विधायकों का समर्थन हैं.

 

सचिन पायलट के बगावती तेवर अपनाने के बाद राज्य में पार्टी ने अपना शाक्ति प्रदर्शन किया था और इसी दौरान सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस पद से बर्खास्त कर दिया गया था. इस एक्शन के बाद अशोक गहलोत खुलकर पायलट के खिलाफ बोल रहे थे लेकिन सचिन पायलट की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं आई थी.

खबर के अनुसार, इस मामले से जुड़े एक अन्य व्यक्ति ने इससे पहले इस बात की जानकारी दी थी कि सचिन पायलट ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष से राहुल गांधी से मिलने के लिए समय मांगा है और पायलट इस दौरान अहमद पटेल और केसी वेणुगोपाल जैसे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से बात कर रहे थे, जिसके बाद माना गया कि उनके रूख में नरमी आई हैं.

इस बैठक को लेकर न तो सचिन पायलट और न ही राहुल गांधी के कार्यालय ने कोई टिप्पणी की है. राजस्थान की अशोक गहलोत की सरकार गिराने के आरोप में स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप ने सचिन पायलट को नोटिस थमाया था. सचिन पायलट को नोटिस मिलने के बाद, ऐसा पहली बार है जब दोनों नेताओं की मुलाकात हुई है.

इस मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने बताया कि यह पहली मीटिंग थी और आने वाले कुछ दिनों में इन नेताओं के बीच और भी कई मीटिंग होने वाली है. वहीं कुछ रिपोर्ट में पायलट गुट के समर्थक विधायकों के हवाले से यह भी दावा किया गया है कि राहुल गांधी ने सचिन पायलट को भरोसा दिलाया है कि वो उनकी सभी बातों की हल निकाला जाएगा.

मुंबई में अब आवाज से होगी कोरोना वायरस की जांच, बीएमसी कर रही तैयारी

First published: 10 August 2020, 17:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी