Home » इंडिया » Rajasthan: Sachin Pilot and glamorous wife Sara Pilot love story, daughter of Farooq Abdullah
 

Rajasthan: सचिन पायलट के प्यार में जब कश्मीर के मुख्यमंत्री की खूबसूरत बेटी ने छोड़ दिया था पिता का घर

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2020, 13:29 IST

Rajasthan Politics: राजस्थान की राजनीति में बड़ा उठापटक देखने को मिल रहा है, जब उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बगावत कर दी है. इसके साथ ही लोगों की दिलचस्पी उनकी जिंदगी के बारे में जानने की लोगों की दिलचस्पी बढ़ गई है. हम आपको सचिन के बारे में ऐसी ही कुछ दिलचस्प बातें बताने जा रहे हैं.

सचिन पायलट का असली नाम है सचिन प्रसाद बिधुड़ी

ज्यादातर लोगों को जानकारी नहीं है कि सचिन पायलट का असली नाम क्या है? उनका असली नाम सचिन प्रसाद बिधुड़ी है. बता दें कि उनके पिता राजेश पायलट का असली नाम राजेश्वर प्रसाद बिधुड़ी था. राजेश्वर प्रसाद बिधुड़ी एयरफोर्स में पायलट थे, उन्हें बेहतरीन प्लेन उड़ाने वाला माना जाता था. इस कारण उनका नाम बदलकर राजेश पायलट हो गया था और इस नाम से वह काफी लोकप्रिय हुए. इस कारण सचिन को पायलट टाइटल विरासत में मिली.

सचिन पायलट की लव स्टोरी है फिल्मी

सचिन पायलट ने सारा पायलट से शादी की है. सारा जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की बेटी तथा राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की बहन हैं. सचिन पायलट से सारा ने प्रेम विवाह किया है. हालांकि दोनों की शादी आसान नहीं रही है. एक तरफ सचिन हिंदू परिवार से आते हैं, दूसरी तरफ सारा एक बड़े मुस्लिम सियासी घराने की हैं.

ये बात उन दिनों की है जब फारुख अब्दुल्ला की बेटी सारा अब्दुल्ला आगे की पढ़ाई पूरी करने विदेश गई थीं. सारा लंदन में अपनी पढ़ाई कर रही थीं. इस दौरान उनकी मुलाकात सचिन पायलट से हुई. भारतीय होने के नाते पहली ही नजर में दोनों में प्यार हो गया. इसके बाद मुलाकातों का सिलसिला चल निकला. दोनों कभी रेस्टोरेंट में मिलते तो कभी कॉलेज की कैंटीन में. दोनों अक्सर घंटों बातें किया करते थे. इस तरह दोनों का प्यार परवान चढ़ रहा था.

इन मुलाकातों और बातों का सिलसिले के बीच एक-दूसरे को दोनों अपना दिल दे बैठे. फिर एक दिन सचिन पायलट ने सारा को शादी के लिए प्रपोज कर दिया, इसके बाद सारा ने भी हां बोल दिया. इन दोनों ने ही एक-दूसरे के साथ जीवनभर देने का फैसला कर लिया था. इसके बाद देश लौटने पर अपनी मोहब्बत की बात घरवालों से की, लेकिन यह सब इतना आसान नहीं था.

जैसे ही सारा अब्दुल्ला ने यह बात अपने पिता को बताई, पूरे घर में कोहराम मच गया. फारुख अब्दुल्ला ने तब सारा को जमकर डांट लगाई थी और उनका घर से निकलना बंद करवा दिया था. फारुख अब्दुल्ला एक हिन्दू परिवार में अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहते थे. हालांकि फारूख ने भी अलग धर्म की महिला से शादी की है.

सारा ने छोड़ दिया पिता का घर

घर की बंदिशें और पिता की डांट भी सारा की मोहब्बत कम नहीं कर पाई. सचिन पायलट से शादी करने के लिए और उनकी मोहब्बत ने सारा को घर छोड़ने पर मजबूर कर दिया. एक दिन मौका देखकर वह घर छोड़कर सचिन के पास आ गईं. फिर दोनों ने साल 2004 में शादी कर ली. यह शादी एक काफी सामान्य समारोह में की गई. इसमें फारुख अब्दुल्ला शामिल नहीं हुए थे.

भले ही सारा और सचिन ने शादी कर ली लेकिन फारुख अब्दुल्ला इस रिश्ते को कभी मानते नहीं थे. यहां तक कि उन्होंने सचिन पायलट को अपना दामाद मानने से भी इनकार कर दिया था. लेकिन धीरे-धीरे दोनों परिवारों के बीच रिश्तों की तल्खी खत्म हुई और फारुख ने बाद में इस रिश्ते को स्वीकार कर लिया. सारा पायलट और सच‍िन पायलट के दो बेटे आरान और वीहान हैं.

Rajasthan: कांग्रेस मुख्यालय से निकाले गए सचिन पायलट के पोस्टर, पार्टी से निकाले जाने की अटकलें तेज

राजस्थान : क्या सिंधिया की राह चलेंगे पायलट, गहलोत के पास कितने MLA, BJP को कितनी जरूरत

First published: 13 July 2020, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी