Home » इंडिया » Rajnath Singh: Attempt to free the Indian soldier in Pak captivity are bening made
 

पाकिस्तान के कब्जे से भारतीय जवान को आजाद कराने की कोशिशें जारी, बोले राजनाथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2016, 12:08 IST
(फाइल फोटो)

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान के कब्जे में आए एक भारतीय जवान की रिहाई की कोशिश की जा रही है. गुरुवार को पता चला था कि एक भारतीय जवान नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तानी सैनिकों के कब्जे में आ गया था.

बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय रायफल्स के जवान चंदू बाबूलाल चौाहान गुरुवार से पाकिस्तानी सैनिकों की गिरफ्त में हैं. इस बारे में राजनाथ सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान से भारतीय सैनिक की सुरक्षित रिहाई को लेकर बातचीत की जा रही है.

जवान चंदू बाबूलाल चौहान पाकिस्तान के पास

इस बीच भारतीय सेना ने पाकिस्तानी मीडिया में आई उन खबरों को 'झूठा और निराधार' बताते हुए खारिज कर दिया, जिसमें कहा गया है कि पाकिस्तानी सेना की जवाबी कार्रवाई में आठ भारतीय जवान मारे गए और एक पकड़ा गया.

भारतीय सेना ने कहा है कि एलओसी पार आतंकी शिविरों पर सर्जिकल स्‍ट्राइक के दौरान उसको कोई नुकसान नहीं पहुंचा. सेना के मुताबिक इन शिविरों में छिपे आतंकी भारत में घुसपैठ की फिराक में थे.

गलती से एलओसी पार की

पाकिस्‍तानी अखबार डॉन ने जिस जवान के पकड़े जाने की बात कही है, वह राष्‍ट्रीय रायफल्‍स (आरआर) से संबंधित है और सर्जिकल स्‍ट्राइक ऑपरेशन में शामिल नहीं था. सेना के मुताबिक वह ड्यूटी पर जिस सैन्‍य चौकी पर तैनात था, वहां से गलती से नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पार चला गया था.

आर्मी हेडक्‍वार्टर ने एक बयान जारी करते हुए कहा, ''सेना और नागरिकों द्वारा गलती से इस तरह नियंत्रण रेखा पार कर जाना दोनों ओर से असामान्य बात नहीं है. उन्हें मौजूदा व्यवस्थाओं के तहत वापस सौंप दिया जाता है.''

बयान में यह भी कहा गया, ''जहां तक पाकिस्तानी मीडिया के एक वर्ग में भारतीय सेना के आठ जवानों के मारे जाने की रिपोर्ट की बात है, यह रिपोर्ट पूरी तरह से झूठी और आधारहीन है.''

सैनिक को सौंपने की मांग

सूत्रों के मुताबिक डायरेक्‍टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस (डीजीएमओ) जनरल रणबीर सिंह ने जवान के गलती से नियंत्रण रेखा के पार जाने के मामले में पाकिस्‍तानी समकक्ष से बातचीत करते हुए उसको वापस भेजने की मांग की है.

पाकिस्तानी अखबार डॉन के मुताबिक पाकिस्‍तानी सेना ने दावा किया है कि एलओसी पर तत्‍ता पानी में भारतीय सेना ने गोलीबारी की. इस दौरान जवाबी कार्रवाई में आठ भारतीय सैनिक मारे गए.

अखबार के मुताबिक राष्ट्रीय रायफल्स का एक जवान चंदू बाबूलाल चौहान पकड़ा गया. इससे पहले भारतीय सेना ने कहा था कि बुधवार रात को उसने एलओसी के पार सात जगहों पर सर्जिकल स्‍ट्राइक किया था. हालांकि पाकिस्तानी सेना ने भारत के दावों को सिरे से खारिज किया है.

First published: 30 September 2016, 12:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी