Home » इंडिया » Rajnath Singh will receive the first Rafale from France on Dussehra, this is the number of the first fighter jet
 

ये है पहले राफेल का नंबर, दशहरे पर फ्रांस से पहला फाइटर जेट रिसीव करेंगे राजनाथ सिंह

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 October 2019, 11:11 IST

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 8 अक्टूबर को पेरिस में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन से मिलेंगे और फ्रेंच पोर्ट सिटीके बोर्डोक्स में 36 राफेल विमानों में से पहला प्राप्त करेंगे. जहां वह दशहरा के अवसर पर 'शस्त्र पूजा' करेंगे. राजनाथ सिंह ने 7 अक्टूबर को पेरिस पहुंचने के बाद ट्वीट किया "‘फ्रांस पहुंचकर खुशी हुई. यह महान देश भारत का अहम सामरिक साझेदार है और हमारा यह खास रिश्ता औपचारिक संबंधों से भी ज्यादा गहरा और लंबा है. फ्रांस की मेरी यात्रा का लक्ष्य दोनों देशों के बीच के वर्तमान सामरिक साझेदारी का विस्तार करना है."

यह समारोह भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस के साथ-साथ उस दिन भी मनाया जायेगा जब दशहरा मनाया जाएगा. पारंपरिक शास्त्र पूजा, या हथियारों की पूजा के लिए एयर बेस पर व्यवस्था की गई है जो दशहरा समारोह का हिस्सा है. फ्रांस के शीर्ष सैन्य ब्रास के सदस्यों के साथ-साथ डसॉल्ट एविएशन के वरिष्ठ अधिकारी, राफेल के निर्माता भी समारोह में उपस्थित होंगे. भारत ने सितंबर 2016 में 59,000 करोड़ रुपये के सौदे में फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू जेट विमानों का ऑर्डर दिया था.


चार राफेल जेट विमानों का पहला जत्था मई 2020 तक भारत के लिए उड़ान भरेगा. सितंबर 2022 तक 36 जेट विमानों के भारत में आने की संभावना है, जिसके लिए भारतीय वायुसेना ने तैयारी की है, जिसमें आवश्यक बुनियादी ढांचे और पायलटों के प्रशिक्षण को तैयार करना शामिल है. फ्रांस की सेना में राफेल 2014 में शामिल हुए थे.

पहला राफेल जेट टेल नंबर आरबी 001 के साथ आएगा, जिसमें आरबी एयर चीफ मार्शल राकेश भदौरिया के नाम को दर्शाएगा, जिन्होंने भारतीय वायुसेना प्रमुख के रूप में अपनी पिछली भूमिका में जेट विमानों के लिए सौदे में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. 8 अक्टूबर की शाम पेरिस में राजनाथ सिंह और फ्रांसीसी मंत्री फ्लोरेंस पैरी के बीच वार्षिक इंडो-फ्रेंच डिफेंस डायलॉग के बाद हैंडओवर समारोह आयोजित किया जाएगा.

अमेरिकी पैनल ने कहा- जम्मू-कश्मीर पर प्रतिबंध का पड़ा है विनाशकारी प्रभाव, अब हटाने का समय

 

First published: 8 October 2019, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी