Home » इंडिया » Ram Mandir Bhoomi Poojan in Ayodhya: PM Modi to attend the foundation stone laying ceremony of Ram Mandir in Ayodhya today
 

अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन आज, प्रधानमंत्री मोदी रखेंगे पहली ईंट, 175 अतिथि होंगे शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2020, 7:26 IST

Ram Mandir Bhoomi Poojan in Ayodhya: भगवान राम (Lord Rama) की नगरी अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Temple) निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन (Bhoomi Poojan) की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए पहली ईंद रखेंगे. 70 साल के लंबे इंतजार के बाद अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर को लेकर देशभर में खासा उत्साह है. वहीं अयोध्या नगरी में लोगों की खुशी देखते ही बन रही है. अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास समारोह (Ram Mandir Bhoomi Pujan) से पहले राम जन्मभूमि स्थल पर रामार्चन पूजा (Ramarchan Puja) शुरू हो गई है.

बता दें कि रामार्चन पूजा, भगवान राम (Lord Ram) के आगमन से पहले सभी प्रमुख देवी-देवताओं को आमंत्रित करने के लिए की जाती है. आज होने वाले राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी समेत 175 अतिथि शामिल होंगे. इनमें कुछ मेहमान खास हैं तो कुछ आम लोग भी हैं. राम मंदिर भूमि पूजन के लिए बनाए गए मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, यूपी की गवर्नर आनंदी बेन पटेल, अध्यक्ष श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्रमहंत नृत्य गोपाल दास, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ही मौजूद रहेंगे. इससे पहले भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर मंगलवार रात राम नगरी अयोध्या जगमग रोशनी से नहा उठी.


अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के बीच रामनगरी की गलियों में रामचरित मानस की चौपाइयां गूंजने लगी हैं. विभिन्न आश्रमों और मंदिरों में संतों के साथ श्रद्धालु रामधुन का गायन कर भावविभोर हो रहे हैं. पूरा शहर दीवाली मना रहा है. वहीं सरयू तट पर भी अलग ही नजारा है. सुबह से ही नदी में स्नान के लिए सैकड़ों श्रद्धालु पहुंच रहे हैं, संत और स्थानीय लोग मंदिर निर्माण शुरू होने की खुशी से उत्साहित हैं.

UPSC Civil Services Exam 2019: सिविल सेवा परीक्षा 2019 का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह बने टॉपर

आज यानी बुधवार दोपहर 12:40 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे. राम मंदिर भूमि पूजन के दौरान शहर में किसी तहर का जाम न लगे इसके लिए आज सुबह 6:00 बजे से ट्रैफिक डायवर्जन लागू कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि खराब मौसम के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हेलीकॉप्टर लखनऊ से अयोध्या नहीं गया तो पीएम मोदी सड़क मार्ग से ही रामनगरी पहुंचेंगे.

राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में जो मेहमान शामिल होंगे उनमें पीएम मोदी, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, सरकार्यवाह भय्याजी जोशी, दत्तात्रेय होसबले, सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल, विश्व हिंदू परिषद के मुखिया आलोक कुमार, पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, बाबरी मस्जिद के मुस्लिम पक्षकार रहे हाजी महबूब, इकबाल अंसारी, लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार करने वाले पद्मश्री मुहम्मद शरीफ का नाम भी शामिल हैं. वहीं राम मंदिर आंदोलन के आधार रहे लालकृष्ण अडवाणी और मुरली मनोहर जोशी वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए भूमि पूजन कार्यक्रम में भाग लेंगे.

अयोध्या: राम मंदिर भूमि पूजन के लिए शुभ मुहूर्त मात्र 32 सेकंड का, जानिए क्या है टाइमिंग

नया घाट और राम की पैडी (Ram Ki Paidi) से हनुमानगढ़ी (Hanumangadhi) तक मार्ग के दोनों ओर माटी के दीप प्रज्जवलित किये गये. रोशनी से नहायी अयोध्या में हर ओर प्रसन्नता का वातावरण था. बच्चे इस क्षण को सेल्फी के जरिए यादगार बनाने में मगन थे. इस दौरान पुलिस ने तुलसी उद्यान के निकट पैदल गश्त की. स्थिति पर पुलिस की नजर लगातार बनी हुई थी. अपनी मित्रमंडली के साथ दीप जलाने आये छोटी देवकाली निवासी रजत सिंह ने कहा कि यह उनके लिए विलक्षण क्षण है और इस पल को वह अपने जीवन में हमेशा संजोकर रखेंगे.

अयोध्या: राम मंदिर बनने के बाद दिखेगा ऐसे, भव्यता देख दातों तले दबा लेंगे उंगली

राम मंदिर भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर अयोध्या में कारसेवकपुरम से लेकर नया घाट, हनुमान गढ़ी के आसपास का क्षेत्र पूरी तरह से रोशनी से नहाया दिखा. वहीं राम की पैड़ी पर करीब डेढ़ लाख दिये जलाए गए. इसके अलावा अयोध्या के सभी बड़े मंदिरों और 50 अन्य मंदिरों में भी दीप प्रज्जवलित किये गए. इसके अलावा संध्या आरती में भजन का श्रवण, घंटा घड़ियाल, नगाडों की टंकार और शंखनाद पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया. सरयू नदी का पुल भी रंग बिरंगी रोशनी से नहाया हुआ दिखाई दिया.

Ram Mandir Bhumi Pujan: अयोध्या में भूमि पूजन से पहले आडवाणी ने जारी किया अपना वीडियो, कही ये बात

First published: 5 August 2020, 7:26 IST
 
अगली कहानी