Home » इंडिया » Ram Naik: No harm in Bajrang Dal self-defence camps,what is important to know is intention behind it
 

राम नाईक: बजरंग दल ट्रेनिंग कैंप में बुराई नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2016, 15:33 IST
(पत्रिका)

उत्तर प्रदेश में बजरंग दल के सालाना शौर्य प्रशिक्षण शिविर का वीडियो सामने आने के बाद सियासी घमासान मचा है. हालांकि यूपी के राज्यपाल राम नाईक का कहना है कि इस तरह के कैंप के आयोजन में बुराई नहीं है.

राज्यपाल राम नाईक से जब इस मामले पर सवाल पूछा गया, तो उन्होंने कहा, "आत्मरक्षा के शिविर में कोई बुराई नहीं है, ज्यादा अहम ये जानना है कि इसके पीछे किस तरह की मंशा थी."

ट्रेनिंग कैंप के वीडियो पर विवाद

अयोध्या में आयोजित बजरंग दल के सालाना शौर्य प्रशिक्षण शिविर का विवादित वीडियो सामने आया था. ट्रेनिंग कैंप में संगठन अपने कार्यकर्ताओं को राइफल और तलवार जैसे हथियार चलाना सिखा रहा है.

खास बात ये है कि राइफल और तलवार चलाने की ट्रेनिंग के लिए डमी के तौर पर जिन लोगों को निशाने पर लिया जा रहा है, उन्हें दाढ़ी और मुस्लिम टोपी पहनाई गई थी. बजरंग दल ने शिविर को अपना सामान्य आयोजन बताया था. 

पढ़ें: वीडियो: बजरंग दल के शिविर में नफरत की ट्रेनिंग


विपक्ष का आरोप है कि विधानसभा चुनाव से ठीक पहले प्रदेश का माहौल बिगाड़ने के लिए ये बीजेपी की साजिश है. कैंप के आयोजक मनोज वर्मा ने कहा कि ये बजरंग दल का वार्षिक कार्यक्रम है, ताकि कार्यकर्ता समाज और राष्ट्र के लिए खुद को समर्पित कर सकें.

बजरंग दल का कहना है कि ये आत्मविश्वास की ट्रेनिंग है. आत्मरक्षा के लिए सामान्य नागरिक को जिस प्रकार करना चाहिए, उसके लिए ये कार्यक्रम आयोजित किया गया. 14 मई को अयोध्या में ये शिविर आयोजित हुआ था.

First published: 24 May 2016, 15:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी