Home » इंडिया » ramdev company manufacturing jeans
 

खुद पारंपरिक परिधान पहनने वाले रामदेव अब बेचेंगे स्टाइलिश जींस

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2016, 16:24 IST
(कैच)

बाबा रामदेव योग के बाद घरेलू सामान के कारोबार में झंडे गाड़ने के साथ ही अब एक नए क्षेत्र में किस्मत आजमाने जा रहे हैं. रामदेव जनता को खान-पान का स्वच्छ आहार और औषधि बेचने के बाद अब स्टाइलिश जींस भी पहनाएंगे.

इसके लिए उनकी कंपनी पतंजलि कपड़ा कारोबार में अपना कदम रखने जा रही है. इसके तहत बाबा रामदेव 'परिधान' के नाम से कपड़ों का ब्रांड शुरू करने जा रहे हैं. रामदेव के ब्रांड ‘परिधान’ में जनता को जींस और फॉर्मल कपड़े भी मिलेंगे.

इसके अलावा रामदेव देश में पतंजलि की कामयाबी के बाद विदेशों में भी कारोबारी पैर फैलाने की तैयारी में हैं.

बाबा रामदेव ने अंग्रेजी अखबार ‘द टेलीग्राफ’ को बताया कि उन्होंने अपने उन फॉलोअर्स के साथ इस पर विचार किया है, जो उन्हें पतंजलि योग कपड़े लाने के लिए कह रहे थे. उसके बाद उन्होंने विचार किया कि क्यों नहीं सभी के कपड़ों के लिए ‘परिधान’ शुरू किया जाए.

उन्होंने यह भी कहा कि अगर हम हमारे देश में आर्थिक आजादी लाने के लिए लड़ाई कर रहे हैं, तो हमें कपड़ों के बाजार में भी होना चाहिए. उन्होंने बताया कि हम पुरुषों और महिलाओं के लिए कपड़े बनाएंगे जो कि सिर्फ पारंपरिक कपड़े ही नहीं होंगे, इसके साथ जींस जैसे मॉडर्न कपड़े भी बनाएंगे.

योगगुरु रामदेव ने कहा, "मैं बाबा हूं इसका ये मतलब कतई नहीं है कि हम आधुनिकता के साथ नहीं चल सकते हैं."

उन्होंने कहा कि हमने पहले से ही नेपाल के बाजार में प्रवेश कर लिया है. बांग्लादेश के बाद हमारा लक्ष्य अफ्रीका में प्रवेश करने का है. रामदेव ने कहा, "हम पहले विकासशील देशों में  कारोबार बढ़ाएं जहां बाजार की स्थितियां हमारे जैसी है. दूसरी स्टेज में हम बहुराष्ट्रीय कंपनियों के खिलाफ यूरोप और अमेरिका में भी प्रवेश करेंगे, जहां प्राकृतिक उत्पादों की मांग बढ़ रही है."

गौरतलब है कि हाल ही में बाबा रामदेव ने कहा था कि हमारा कारोबार अगले साल 10,000 करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा. उन्होंने ये भी कहा था कि हम पशु आहार लेकर आएंगे, जिसमें कोई यूरिया नहीं होगा. इससे मवेशियों को लाभ होगा.

रामदेव ने दावा किया कि मवेशियों को जो आहार दिया जाता है, उसमें 1-4 प्रतिशत यूरिया होता है. जिससे देश में 50 प्रतिशत गायों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है.

First published: 10 September 2016, 16:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी