Home » इंडिया » Ramdev International limited escaped after cheating 414 crores of banks, SBI Lodges Complaint on CBI
 

SBI को करोड़ों का चूना लगाकर एक और डिफाल्टर देश से फरार, CBI में दर्ज हुई शिकायत

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2020, 14:10 IST

भारतीय बैंकों से करोड़ो रुपया लेकर विदेश फरार होने की डिफॉल्टर्स में अब एक नया नाम शामिल हो गया है. यह डिफॉल्टर देश के 6 बैंकों से करोड़ों रुपये लेकर देश से फरार हो गया है. दिल्ली स्थित बासमती चावल निर्यात फर्म के खिलाफ स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानि SBI ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के पास शिकायत दर्ज कराई है.

SBI ने अपनी शिकायत में कहा है कि कंपनी के मालिक ने देश के छह बैंकों के कंसोर्टियम को  414 करोड़ रुपये का धोखा दिया और अब देश से फरार हो गए हैं. बासमती चावल का व्यापार करने वाली कंपनी रामदेव इंटरनेशन लिमिटेड के मालिक ने एसबीआई तथा कुछ दूसरे बैंकों से करीब 414 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था.

बड़ी बात यह है कि चार सालों तक उसके खिलाफ कोई शिकायत ही दर्ज नहीं कराई गई. अब शिकायत में SBI ने बताया है कि कंपनी का मालिक विदेश फरार हो गया है. SBI की शिकायत के बाद सीबीआई ने कंपनी के मालिक और उसके चार निदेशकों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. CBI की जांच में सामने आया है कि कंपनी के मालिक ने 6 बैंकों से उधार लिया था और वह साल 2016 से लापता है.

कोरोना वायरसः दुनियाभर में मरने वालों का आंकड़ा दो लाख 76 हजार के पार, 40 लाख से ज्यादा संक्रमित

जांच कर रहे अधिकारियों ने जानकारी दी कि कंपनी के मालिक ने देश छोड़ने से पहले अपनी अधिकतर संपत्तियां बेच दीं. इसके बाद जब SBI को महसूस हुआ कि अब उसका बकाया वापस नहीं होगा, तब उसने CBI को शिकायत दर्ज कराई. इसके बाद CBI ने 28 अप्रैल को कंपनी के मालिक और निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज किया.

जिनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है उनमें सुरेश कुमार, नरेश कुमार और संगीता के नाम शामिल हैं. इन सबके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर (LOCs) जारी किए गए हैं. NCLT के अनुसारस, कंपनी के निदेशक साल 2018 में दुबई भाग गए हैं. वहीं, कंपनी के लोन को साल 2016 में एनपीए में डाल दिया गया है.

Lockdown: ममता सरकार नहीं दे रही प्रवासी मजदूरों के लिए चलाई जा रही ट्रेनों को अनुमति- अमित शाह

Coronavirus : 24 घंटे में 3000 से ज्यादा मामले, अब COVID-19 के साथ रहना सीखना होगा- हेल्थ मिनिस्ट्री

First published: 9 May 2020, 14:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी