Home » इंडिया » Ravi Shankar Prasad answered: PM Modi is as sacred as Ganga, Congress vice-president Rahul Gandhi allegation are baseless
 

राहुल गांधी ने लगाया मोदी पर भ्रष्टाचार का आरोप, बीजेपी बोली पीएम गंगा समान पवित्र

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 December 2016, 19:27 IST

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊपर बुधवार को सहारा समूह से रिश्वत लेने का गंभीर आरोप लगाया. इसके बाद भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री के बचाव की मुद्रा में आ गई और केंद्रीय कानून एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर कहा कि राहुल गांधी के आरोप बेबुनियाद हैं और वो वीवीआईपी हेलिकॉप्टर अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में गांधी परिवार का नाम आने से परेशान हैं. पीएम गंगा की तरह पवित्र हैं.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि चुनाव में कांग्रेस हार रही है और इस हार से हताश होकर गुस्से में राहुल पीएम पर झूठे आरोप लगा रहे हैं. अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में गांधी परिवार का नाम आने के कारण वो परेशान हैं और मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए ऐसा कर रहे हैं. 

केेंद्रीय मंत्री यहीं चुप नहीं हुए और उन्होंने कहा राहुल गांधी 5,000 करोड़ रुपये के नेशनल हेराल्ड घोटाले के मामले में जमानत पर हैं और आज मोदी सरकार पर आरोप लगा रहे हैं. राहुल गंगा के समान पीएम के ऊपर बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं. भ्रष्टाचार के सबसे बड़े संरक्षक के रूप में एक दशक तक अपना राजनीतिक आचरण करने वाले राहुल गांधी से और किसी बात की अपेक्षा नहीं की जा सकती.

कांग्रेस का इतिहास ही भ्रष्टाचार का रहा है. कांग्रेस पार्टी ने भ्रष्टाचार के मामले में धरती, आकाश और समुद्र तक को नहीं छोड़ा. राहुल जी आप इस बात का जवाब दें कि 10 साल की सरकार में मनमोहन सिंह से अधिक आपकी ताकत थी तब आपने किसी घोटाले पर कुछ क्यों नहीं बोला. अब राहुल के बारे में जनता मानने लगी है कि वह बोलने से पहले नहीं सोचते और न ही बोलने के बाद सोचते हैं. जब रॉबर्ट वाड्रा हरियाणा सरकार से लाखों-करोड़ों रुपये कमा रहे थे, तब एक भी शब्द उन्हें नहीं बोला और आज हमारे गंगा के समान पवित्र पीएम पर झूठे आरोप लगा रहे हैं. 

गौरतलब है इससे पहले मंगलवार को राहुल गांधी ने गुजरात में पीएम नरेंद्र मोदी के गृहजिले मेहसाणा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सहारा इंडिया ने पीएम मोदी को पैसा दिया है. सहारा इंडिया ने 6 महीने में 9 बार अपनी डायरी में लिखा है कि हमने नरेंद्र मोदी जी को पैसा दिया है.

आयकर विभाग का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि 30 अक्टूबर 2013 को 2.5 करोड़ रुपये मोदी को दिए गए. उसी साल 12 नवंबर को 5 करोड़, 27 नवंबर को 2.5 करोड़ और 29 नवंबर को 5 करोड़ रुपये दिए गए. राहुल ने बताया कि 22 नवंबर 2014 को आयकर विभाग ने सहारा कंपनी पर छापा मारा था, राहुल ने इस मामले में एक स्वतंत्र जांच की मांग भी की.

राहुल के मुताबिक़ सहारा के खातों की जांच में यह एंट्री मिली है. उसके मुताबिक़ 6 और 19 दिसंबर 2013 को मोदी को 5 करोड़ रुपये दिए गए. 13 जनवरी, 28 जनवरी और 22 फरवरी 2014 को भी अलग-अलग रूप में पांच करोड़ देने की एंट्री सहारा के खातों में दर्ज है.

राहुल ने आगे कहा, "स्विट्जरलैंड सरकार ने मोदी जी को सभी नाम भेज रखे हैं. उन चोरों के नाम आपने संसद में रखे क्यों नहीं? आप उनको बचा क्यों रहे हैं? मैं नहीं जानता आखिर क्यों मोदी जी 94 फीसदी काला धन रखने वाले के बजाय 6 फीसदी लोगों को निशाना बना रहे हैं." राहुल ने कहा, " नोटबंदी का फैसला 99 फीसदी ईमानदार लोगों के खिलाफ है."

राहुल गांधी ने नोटबंदी के बाद किसानों को हो रही परेशानी का मुद्दा भी उठातेे हुए कहा कि किसान चेक या कार्ड से बीज नहीं खरीदते, इसके लिए उसके पास कैश होना जरूरी है. मोदी जी ने किसानों से कैश छिन लिया है. जब किसान और मध्यवर्ग बैंक को लोन नहीं दे पाते हैं तो उन्हें जेल में डाल दिया जाता है. जब यही काम अमीर करते हैं तो उन्हें चोर न कहकर डिफॉल्टर्स कहा जाता है.

First published: 21 December 2016, 19:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी