Home » इंडिया » rio olympics 2016: PV Sindhu lost gold MEDAL
 

शानदार...जबर्दस्त...जिंदाबाद सिल्वर गर्ल पीवी सिंधू

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2016, 6:39 IST

रियो ओलंपिक में शुक्रवार को भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू फाइनल में स्पेन की कैरोलीना मारिन से 19-21, 21-12, 21-15 से हार गई. भारत के लिए व्यक्तिगत स्पर्धा में सिंधू ने तीसरा रजत पदक जीता है. 

सिंधू पहली भारतीय महिला हैं जिन्होंने किसी भी मुकाबले में रजत पदक जीता है. सिंधू के अलावा सिर्फ पहलवान सुशील कुमार और निशानेबाज विजय कुमार ने लंदन ओलंपिक 2012 में रजत पदक जीता है.

सिंधू का सफर

पांच जुलाई, 1995 को वर्तमान तेलंगाना में जन्मी लंबे कद वाली पीवी सिंधू तब सुर्खियों में आई जब उन्होंने साल 2013 में ग्वांग्झू चीन में आयोजित विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता. पीवी सिंधू के पिता पीवी रमन्ना और मां पी विजया भी वॉलीबाल खिलाड़ी रह चुके है. शायद यही कुछ सिंधू को भी खेलों में खींच लाया.

सिंधू को बैडमिंटन के गुर देश के एक बड़े बैडमिंटन खिलाड़ी रह चुके पूर्व आल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियन पुलेला गोपीचंद ने सिखाए. पुलेला हैदराबाद में अपनी बैडमिंटन अकादमी चलाते हैं.

विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली सिंधू भारत की पहली महिला खिलाड़ी बनी. इसके बाद सिंधू ने इसी कामयाबी को अगले ही साल 2014 में कोपेनहागेन में भी दोहरा दिया.

उन्होंने लगातार दूसरे साल विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतकर दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा.

First published: 20 August 2016, 6:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी