Home » इंडिया » robert vadra: i did not leave my country
 

आगे बढ़ने के लिए प्रियंका की जरूरत नहीं:रॉबर्ट वाड्रा

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 April 2016, 15:44 IST

उद्योगपति और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है कि उन्हें अपने जीवन में बदलाव लाने या आगे बढ़ने के लिए पत्नी प्रियंका गांधी की जरूरत नहीं है.

वाड्रा ने कहा कि उनके पास माता-पिता की पहले से ही अकूत धन-संपत्ति है, लिहाजा मुझे जिंदगी को बेहतर बनाने या तरक्की के लिए प्रियंका गांधी की मदद की दरकार नहीं है.

vadhra1

वहीं हरियाणा लैंड डील मामले में बीजेपी सरकार के निशाने पर चल रहे रॉबर्ट वाड्रा ने साफ शब्दों में कहा कि उन्हें कितना भी परेशान किया जाए लेकिन वो देश छोड़कर नहीं जाएंगे.

वाड्रा ने कहा कि उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मौजूदा मोदी सरकार उनके बारे में क्या कहती है.

पढ़ें:भाजपा की राबर्ट वाड्रा बनेगी आनंदीबेन पटेल की बेटी!

वाड्रा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कोई भी देश विरोधी होने के लिए नहीं कहता लेकिन सबका अपना सोचने का नजरिया है, हम किसी पर अपने विचार नहीं थोप सकते.

रॉबर्ट वाड्रा ने इस दौरान कहा कि हमारा देश बहुत बड़ा है और ये धर्मनिरपेक्ष रहा है. लोगों को कोशिश करनी चाहिए कि देश में ये बात बनी रहे. डीएलएफ लैंड डील में फंसे रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि वो लोगों की बातों से परेशान होकर देश नहीं छोड़ने वाले हैं.

वाड्रा ने कहा कि आज रियल एस्टेट समेत हर बिजनेस में लोग निराश हैं. अगर ऐसा ही चलता रहा तो जल्द ही लोगों का गुस्सा सरकार के खिलाफ फूट सकता है.

दिल्ली के गोल्फ क्लब में रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि वे एक संपन्न परिवार से रिश्ता रखते हैं. उन्हें फर्क नहीं पड़ता कि लोग उनके बारे में क्या कहते हैं या क्या लिखते हैं.

vadhra-golf

वाड्रा ने कहा कि अपना सच वो बखूबी जानते हैं.उन्होंने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो राजनीति में हैं या नहीं. उन्हें जो विषय गंभीर लगते हैं, सोशल मीडिया पर उसके बारे में वो लिखते रहेंगे.

vadhra

पिछले साल प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा अपने फेसबुक पोस्ट को लेकर विवादों में घिर गए थे. उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया था.

वाड्रा ने अपने कमेंट में पीएम मोदी का नाम लिए बगैर लिखा था, " भारत की संसद शुरू हो गई है और इसके साथ घटिया विभाजनकारी राजनीति भी. लेकिन भारत के लोग बेवकूफ नहीं हैं. "

इसके बाद हुए विवाद में वाड्रा को लोकसभा सचिवालय को अपनी पोस्ट पर सफाई देनी पड़ी थी.

पढ़ें:भारतीय राजनीति की चर्चित वैलेंटाइन जोड़ियां और कुछ कहानियां

First published: 14 April 2016, 15:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी