Home » इंडिया » Rohingya Muslim are not refugees, nor have they taken asylum, They are illegal immigrants says rajnath singh.
 

'गैरकानूनी तरीके से देश में घुसे रोहिंग्या मुसलमान, रेफ्यूजी समझने की गलती नहीं करें'

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2017, 15:41 IST

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रोहिंग्या मुसलमानों को रेफ्यूजी से मानने से इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि मानवाधिकारों को हवाला देकर उन्हें अवैध रूप से भारत में रहे इन लोगों को रेफ्यूजी समझने की गलती नहीं करनी चाहिए.

 

राजनाथ सिंह ने कहा देश में 40 हजार रोहिंग्या मुस्लिम रहते हैं. ये लोग अवैध तरीके से म्यांमार के रास्ते भारत पहुंचे हैं. इनमें में से किसी ने कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया है. हमें इस बात को समझना चाहिए. 

राजनाथ सिंह आगे कहा कि रेप्यूजी स्टेटस प्राप्त करने का एक प्रॉसेस होता है, जिसका पालन किसी भी नहीं रोहिंग्या ने आज तक नहीं किया है. ये लोग राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है. राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने किसी अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लघंन किया है.

गौरतलब है कि केंद्र सरकार म्यामांर से भारत आए रोहिंग्या शरणार्थियों को वापस भेजने के लिए सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर करने जा रही है. वहीं मानवाधिकार आयोग केन्द्र सरकार के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने की तैयारी कर रहा है.

First published: 21 September 2017, 13:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी