Home » इंडिया » Rohith Vemula suicide
 

रोहित वेमुला खुदकुशी: सियासत तेज, बीजेपी शीर्ष नेतृत्व चुप

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 January 2016, 14:11 IST

हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी (एचसीयू) के छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी पर सियासत तेज हो गई है.

विज्ञान तकनीक और सोशल स्टडीज में पिछले दो साल से पीएचडी कर रहे रोहित ने रविवार रात को खुदकुशी कर ली थी.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को यूनिवर्सिटी का दौरा करेंगे. कांग्रेस पार्टी की तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा कि राहुल छात्रों से मिलेंगे. खबर है कि राहुल मृतक रोहित के परिजनों से भी मुलाकात करने वाले हैं.

इस मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है.

केजरीवाल ने अपने एक ट्वीट में कहा, 'यह आत्महत्या नहीं है. यह हत्या है. यह लोकतंत्र, सामाजिक न्याय और समानता की हत्या है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी को मंत्रियों को निलंबित करना चाहिए और देश से माफी मांगनी चाहिए.'

बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व की तरफ से अब तक कोई बयान आया नहीं है. हालांकि, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा है कि फिलहाल वह कोई राजनीतिक बयान नहीं देना चाहती है.

केजरीवाल ने अपने एक ट्वीट में कहा है कि यह आत्महत्या नहीं है, यह हत्या है

ईरानी ने बताया कि दो लोगों की फैक्ट फाइडिंग टीम को यूनिवर्सिटी भेजा जा रहा है. टीम की रिपोर्ट मिलने के बाद ही वह कोई प्रतिक्रिया देंगी.

तेलंगाना पुलिस ने इस मामले में सोमवार को केंद्रीय राज्य मंत्री और बीजेपी नेता बंडारु दत्तात्रेय के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

दत्तात्रेय के अलावा हैदराबाद सेंद्रल यूनिवर्सिटी के कुलपति और कुछ अन्य लोगों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

केस दर्ज होने के बाद केंद्रीय श्रम राज्यमंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने सोमवार को कहा कि हैदराबाद विश्वविद्यालय में पांच दलित छात्रों के निलंबन से न तो उनका कोई संबंध है और न ही उनकी पार्टी का.

बीजेपी के अनुसूचित जाति मोर्चे के अध्यक्ष संजय पासवान ने इस घटना पर ट्विटर पर लिखा है कि सत्ता की राजनीति के स्टेक होल्डरों को रोहित वुमेला प्रकरण गंभीरता से लेना चाहिए और क्रोध, बदला, विद्रोह और प्रतिक्रियाओं का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए.

First published: 19 January 2016, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी