Home » इंडिया » Rohith vemula suicide: arvind kejriwal slams narendra modi
 

जल्द ही देश के युवा मोदी को सबक सिखाएंगे: अरविंद केजरीवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 February 2016, 16:49 IST

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मंगलवार को जंतर मंतर पर हैदराबाद युनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला के लिए न्याय की मांग कर रहे छात्रों के मार्च में शामिल हुए. छात्रों की रैली को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने नरेंद्र मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि रोहित के मामले में इंसाफ नहीं हुआ है.

उन्होंने दावा किया कि केंद्र के जिन मंत्रियों के नाम इस मामले में आए, उनसे पूछताछ तक नहीं की गई. उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थानों के लिए अलग से कानून बनाना चाहिए और यह कानून रोहित के नाम पर होना चाहिए.

केजरीवाल ने कहा कि मोदी सरकार देशभक्ति की सर्टिफिकेट बांट रही है. इस सरकार के लिए देशभक्त योगी आदित्यनाथ, साध्वी ऋंतभरा और नाथूराम गोडसे जैसे लोग हैं जबकि आमिर खान, रोहित वेमुला, महात्मा गांधी इन्हें देशद्रोही नजर आते हैं.

देखें: रोहित वेमुला के समर्थन में दिल्ली की सड़कों पर उमड़ा लोगों का हुजूम

केजरीवाल ने कहा कि मोदी सरकार से हर तबका नाराज है और देश के युवा बहुत जल्द ही पीएम नरेंद्र मोदी को सबक सिखाएंगे. पटियाला हाउस कोर्ट में हुई हिंसा पर उन्होंने कहा कि वकीलों की कार्रवाई क्षमा करने लायक नहीं है.

अरविंद ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार के वादे के मुताबिक देश के अच्छे दिन नहीं बल्कि देश के बुरे दिन जरूर आ गए.

इसके अलावा रैली में कुछ लोगों ने 'आरक्षण विरोधी केजरीवाल' जैसे नारे लगाए. इस पर केजरीवाल ने कहा, 'मैंने कब कहा, मैं आरक्षण के खिलाफ हूं, मैंने हमेशा आरक्षण का समर्थन किया है.'

मोदी पर हमला करते वक्त केजरीवाल ने मीडिया की भी तारीफ कर डाली. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में मीडिया ने इस मामले बहुत अच्छा काम किया है. स्टिंग ऑपरेशन चलाकर मीडिया ने आरोपी वकीलों का पर्दाफाश किया है.

First published: 23 February 2016, 16:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी