Home » इंडिया » RRB Recruitment 2018: 2 crore application for 90,000 vacancy of railway group D
 

RRB Recruitment 2018: बेरोजगारी से जूझता देश का युवा, 90 हजार पदों के लिए 2 करोड़ आवेदन

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2018, 10:06 IST

रेलवे ने इस साल कई नौकरियों की सौगात दी है करीब 1 लाख से ज्यादा पदों पर आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. लेकिन देश में बेरोजगारी शायद इससे कई गुना ज्यादा है. इसका अंदाजा इन आंकड़ों से लगाया जा सकता है कि मात्र 1 लाख पदों के लिए अब तक 2 करोड़ से ज्यादा आवेदन हो चुके हैं और अभी आवेदन की अंतिम तारीख में कुछ दिन शेष हैं. ऐसे में ये संख्या बढ़ने की और भी उम्मीद है. गौरतलब है इस बार आवेदन शुल्क में भी बढ़ोत्तरी की गयी है.

किन पदों पर हो रहे हैं आवेदन
रेलवे ग्रुप सी और ग्रुप डी में 90,000 भर्तियां कर रहा है और रेलवे सुरक्षा बल के लिए 9,500 भर्तियां की जाएंगी. सहायक लोको पायलट और तकनीकी पदों के लिए 50 लाख से ज्यादा ऑनलाइन आवेदन किए जा चुके हैं. 26,502 लोको पायलट और तकनीकी पद खाली हैं और ग्रुप डी में 62,907 भर्तियां होनी हैं.

परीक्षा को पारदर्शी बनाने पर जोर
आयोजित होने वाली परीक्षा की विशालता को ध्यान में रखते हुए, परीक्षा पूरी होने और परिणाम घोषित होने के बाद पारदर्शिता बनाए रखने के लिए उम्मीदवारों को उनके जवाबों की जांच के लिए एक विंडो दी जाएगी. पूरे भारत में उम्मीदवारों के लिए अवसर सुनिश्चित करने के लिए 15 विभिन्न भाषाओं में प्रश्न पत्र प्रदान किए जाएंगे जिनमें हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, बंगाली, पंजाबी, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, असमिया, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, तमिल और तेलगू शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- SSC करेगा सब-इंस्पेक्टर के 1 हजार से ज्यादा पदों पर भर्तियां, जल्द करें अप्लाई

आवेदन शुल्क में इजाफा

रेलवे की इन नौकरियों के लिए सामान्य श्रेणी को 500 रुपये और आरक्षित श्रेणी को 250 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा, पहले सामान्य श्रेणी से 100 रुपये फीस ली जाती थी और आरक्षित श्रेणी के लिए यह नि:शुल्क होती थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बढ़ी हुई फीस को परीक्षा के बाद रिफंड करने का भी एलान किया है. रिफंड के लिए उम्मीदवारों को बैंक खाते की ऑनलाइन जानकारी देनी होगी.

आरक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को पूरी फीस लौटाने की बात कही गई है और अनारक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को 500 रुपये में 400 रुपये वापस मिलेंगे. ग्रुप डी के उम्मीदवारों के लिए उम्र की अधिकतम सीमा 2 वर्ष बढ़ाई गई है जो कि 28 से 30 वर्ष कर दी गई है.

आवेदन नियमों में किये गए कई बदलाव
रेलवे की इन भर्तियों में बिना आईटीआई धारक भी आवेदन कर सकते हैं, उनका 10वीं पास होना जरूरी है. नए नियम के मुताबिक परीक्षा में 10वीं पास या आईटीआई या नेशनल अप्रेंटिस सर्टिफिकेट वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं. सरकार ने ग्रुप डी की भर्तियों के लिए पिछली 22 फरवरी को आईटीआई की अनिवार्यता को खत्म कर दिया था, उसके लिए 10वीं पास उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं.

इसके अलावा बेहद छोटे कद के उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं. एसिड हमले के पीड़ित, कुष्ठरोग बीमारी से ग्रस्त रहे और मांसपेशी के विकास न होने की समस्या से जूझ रहे लोग भी आवेदन कर सकते हैं. दिव्यांग व्यक्तियों के लिए भी आवेदन करने काविकल्प रखा गया है.

ये भी पढ़ें- Railway Recruitment 2018: रेलवे ने फिर निकाली बम्पर भर्तियां 2 लाख 40 हजार से ज्यादा लोगों को मिलेगी नौकरी

बता दें कि 90 हजार पदों पर होने वाली इन भर्तियों के लिए अंतिम तिथि 31 मार्च है. ऐसे में अभी तक 2 करोड़ आवेदन मिल चुके हैं संभव है कि ये संख्या और भी बढ़ेगी. इतनी बड़ी संख्या में आवेदन आने से रेलवे बोर्ड को परीक्षा आयोजित करने में भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है साथ ही ये आंकड़े दिखाते हैं की किस तरह देश का युवा जो कि नौकरी के लिए न्यूनतम शिक्षा प्राप्त है वो किस तरह से बेरोजगारी से जूझ रहा है.

First published: 27 March 2018, 10:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी