Home » इंडिया » Rs 50 lakh to anyone who gets Dayashankar's tongue, announces BSP Chandigarh unit chief Jahan
 

बसपा नेता का बयान, दयाशंकर सिंह की जुबान काटकर लाने वाले को 50 लाख का इनाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2016, 14:45 IST
(एएनआई)

बीएसपी की चंडीगढ़ इकाई की अध्यक्ष जन्नत जहां ने बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी करने वाले निलंबित बीजेपी नेता दयाशंकर सिंह की जुबान काटकर लाने वाले को 50 लाख रुपये का इनाम दिए जाने की घोषणा की है.

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश बीजेपी के पूर्व उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने 20 जुलाई को मायावती पर अभद्र टिप्पणी की थी. जिसके बाद से पूरे देश में विरोध हो रहा है. बयान के बाद बीजेपी ने दयाशंकर सिंह को यूपी उपाध्यक्ष समेत सभी पदों से हटा दिया.

दयाशंकर ने अपने बयान में कहा था, "मायावती टिकट बेच (चुनाव लड़ने के लिए) रही हैं. वे बेहद बड़ी नेता हैं, तीन बार की मुख्यमंत्री. लेकिन वे उन्हें टिकट दे रही हैं जो उन्हें एक करोड़ रुपये दे रहा है. यदि दोपहर को कोई दो करोड़ रुपये लेकर आ जाएगा तो वे उसे टिकट दे देंगी. यदि कोई शाम को तीन करोड़ लेकर आएगा तो वे पिछले प्रत्याशी का टिकट खारिज करते हुए उसे बतौर प्रत्याशी चुन लेंगी. उनका चरित्र ... से भी बदतर है."

इधर लखनऊ के साथ ही देश की राजधानी दिल्ली में भी मायावती पर दयाशंकर की अभद्र टिप्पणी का असर दिख रहा है. दिल्ली के जंतर-मंतर पर बीएसपी कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया.

दयाशंकर पर एससी-एसटी एक्ट में केस

विवादास्पद बयान से राजनीतिक हलकों में हंगामा मचा हुआ है और हर किसी ने दयाशंकर के बयान की निंदा की है.इस टिप्पणी को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में खेद व्यक्त किया. राज्यसभा में जेटली ने कहा, "यह सही नहीं है और मैं ऐसे शब्दों के उपयोग की निंदा करता हूं और अगर किसी व्यक्ति ने ऐसा कहा है तो हम इसकी जांच करेंगे. मैं निजी तौर पर खेद व्यक्त करता हूं." जेटली ने कहा, "मैं आपके सम्मान के साथ संबद्ध हूं और आपके साथ खड़ा हूं." 

बवाल मचने के बाद दयाशंकर सिंह ने अपने बयान पर मायावती से माफी मांग ली. दयाशंकर सिंह ने पूरे मामले पर खेद व्यक्त करते हुए कहा, "मायावती जी एक वरिष्ठ नेता हैं. मेरी मंशा ऐसी नहीं थी, जो मेरे शब्दों से जाहिर होता है. मेरे बयान से उन्हें ठेस पहुंची है, तो मैं तुरंत उनसे माफी मांगता हूं."

वहीं बीजेपी के यूपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को उन्हें पार्टी के सभी पदों से हटाते हुए कहा, "दयाशंकर सिंह के ये बयान स्वीकार्य नहीं है. हमने उन्हें छह साल के लिए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित करने का फैसला लिया है."

First published: 21 July 2016, 14:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी