Home » इंडिया » RSS Chief Mohan Bhagwat Questions The Martyrdom of The Army Jawans On Border
 

मोदी सरकार पर RSS प्रमुख मोहन भागवत का तंज, कहा- जब कोई युद्ध नहीं तो सैनिक क्यों हो रहे शहीद

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 January 2019, 8:10 IST

हाल के दिनों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मोदी सरकार पर तंज कसती रही है. इसी कड़ी में RSS प्रमुख मोहन भागवत ने मोदी सरकार पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने सेना के जवानों की हो रही शहादत पर सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा है कि जब किसी के साथ युद्ध नहीं हो रहा है, तो फिर बॉर्डर पर सैनिक शहीद कैसे हो रहे हैं. ये सवाल उठाते हुए आरएसएस प्रमुख ने इसकी वजह भी बताई और कहा कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हम अपना काम ठीक से नहीं कर रहे हैं.

मोहन भागवत ने ये बात गुरुवार को नागपुर में प्रहार समाज जागृति संस्था के रजत जयंती कार्यक्रम के अवसर पर कही. देश के जवानों की शहादत पर अपनी बात रखते हुए उन्होंंने आजादी के वक्त का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि, जब देश को अंग्रेजों से आजादी नहीं मिली थी तब उस दौरान वतन की स्वतंत्रता के लिए जान कुर्बान कर देने का दौर था. या फिर आजादी के बाद अगर कोई युद्ध हुआ या होता है तो वहां भी सीमा पर दुश्मनों से लड़ते हुए सैनिक अपनी जान की बाजी लगाते हैं. वो देश की सुरक्षा के लिए अपना सबकुछ कुर्बान कर देते हैं. यही नहीं उन्होंने वर्तमान हालातों पर मोदी सरकार को लेकर टिप्पणी करते हुए जवानों की शहादत पर सवालिया निशान उठाया.

RSS प्रमुख ने कहा कि युद्ध के दौरान सैनिकों की शहादत होती है, लेकिन अगर जब इस वक्त हमारे देश में कोई युद्ध नहीं हो रहा है, लेकिन फिर भी सेना के जवान शहीद हो रहे हैं तो इसका मतलब ये है कि हम अपना काम सही ढंग से नहीं कर रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि, "अगर कोई युद्ध नहीं है तो कोई कारण नहीं है कि कोई सैनिक सीमा पर अपनी जान गंवाए. लेकिन ऐसा हो रहा है.”

बता दें कि भागवत ने सीमा पर जवानों की शहादत पर सिर्फ चिंता ही जाहिर नहीं की, बल्कि उन्होंने ये भी कहा कि इसे रोकने और देश को महान बनाने के लिए सरकार को कदम उठाने चाहिए.

ये भी पढ़ें- पत्रकार हत्याकांड: राम रहीम को उम्रकैद की सजा, मरते दम तक रहना होगा जेल में

First published: 18 January 2019, 8:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी