Home » इंडिया » RSS chief mohan bhagwat says current time is favorable for construction of ram temple in ayodhya
 

मोहन भागवत बोले- राम मंदिर बनाने के लिए यह सबसे सही समय, दूर कर लेंगे मुश्किलेंं

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 March 2018, 11:53 IST

राम मंदिर निर्माण को लेकर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि अयोध्या में मंदिर निर्माण करना हमारा संकल्प है. भागवत ने कहा कि यही सबसे अनुकूल समय है. उन्होंने कहा कि जिनको राम मंदिर बनाना है पहले उन्हेें खुद राम बनना पड़ेगा.

बुधवार को मोहन भागवत एक कार्यक्रम में शामिल होने मध्य प्रदेश के ओरछा पहुंचे थे. वह यहां मऊसहानियां में महाराजा छत्रसाल की 52 फीट ऊंची प्रतिमा के अनावरण समारोह में आए थे. यहां उन्होंने कहा कि राम मंदिर में आने वाली कठिनाइयोंं को दूर किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण केवल एक इच्छा नहीं है बल्कि यह हमारा संकल्प है.

इससे पहले पिछले साल नवंबर में कर्नाटक के उडुपी में धर्म संसद में उन्होंने कहा था कि राम जन्मभूमि पर कोई दूसरा ढांचा नहीं, बल्कि सिर्फ राम मंदिर बनेगा. ये हमारी आस्था का मामला है.

गौरतलब है कि अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट की 7 जजों की बेंच सुनवाई कर रही है. 14 मार्च को सुनवाई टालने की मांग करते हुए बोर्ड के वकील कपिल सिब्बल ने कहा था कि यह केस सिर्फ भूमि विवाद नहीं, राजनीतिक मुद्दा भी है. उन्होंने कहा था कि आने वाले लोकसभा चुनाव में भी इसका असर पड़ेगा इसलिए इसकी सुनवाई 2019 के बाद की जानी चाहिए जिसपर कोर्ट ने इन दलीलों को बेतुका बताते हुए कहा था कि हम राजनीति नहीं, केस के तथ्य देखते हैं.

बता दें कि साल 2010 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने विवादित 2.77 एकड़ जमीन 3 बराबर हिस्सों में बांटने का ऑर्डर दिया था. अदालत ने रामलला की मूर्ति वाली जगह रामलला विराजमान को दी थी. सीता रसोई और राम चबूतरा निर्मोही अखाड़े को और बाकी हिस्सा मस्जिद निर्माण के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड को दिया था.

पढ़ें- नीतीश का BJP पर निशाना- समाज को बांटने वालों को नहीं करूंगा बर्दाश्त

इसकेे खिलाफ सुन्नी वक्फ बोर्ड 14 दिसंबर 2010 को सुप्रीम कोर्ट पहुंचा. फिर एक के बाद एक 20 पिटीशन्स दाखिल हुईं और सुप्रीम कोर्ट ने 9 मई 2011 को हाईकोर्ट के फैसले पर स्टे लगा दिया, लेकिन सुनवाई शुरू नहीं हुई. इस दौरान 7 चीफ जस्टिस बदले.

First published: 22 March 2018, 11:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी