Home » इंडिया » RSS claims conspiracy spotting to defame hindu and hindu religion in india
 

मॉब लिंचिंग पर बोले मोहन भागवत, कहा- ये हिंदू धर्म और संस्कृति को बदनाम करने की साजिश

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 July 2019, 12:11 IST

देशभर आए दिन होने वाली भीड़ हिंसा यानि मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर संघ प्रमुख मोहन भागवत का कहना है कि ये हिंदू धर्म को बदनाम करने की कोशिश है. आरएसएस प्रमुख ने ये बात शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय सामाजिक सद्भाव बैठक के दौरान मथुरा में कही.

उन्होंने कहा कि देश में इस समय हिंदू धर्म और संस्कृति को बदनाम करने की गहरी साजिश रची जा रही है. भागवत ने कहा कि, कहीं भीड़ हिंसा के नाम पर सियासत करके समाज में घृणा फैलाने का काम हो रहा है तो कहीं गाय के नाम पर. यही नहीं उन्होंने इससे धर्म परिवर्तन तक करान की बात कही. उन्होंने कहा कि कुछ राज्यों में एक योजना के तहत धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है. भागवत ने कहा कि आज के हालातों से सभी को सतर्क रहने की जरूरत है.

वहीं संघ के पदाधिकारियों का कहना है कि कई मामलों में पता चला कि ये सिर्फ माहौल बिगाड़ने की कोशिश है. जहां एक ही वर्ग के झगड़े को भीड़ हिंसा बता दिया गया. बाद में पुलिस ने जांच में इस बात का खुलासा किया कि ये मात्र दो वर्गों का झगड़ा था. संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी इस प्रकार के मामले कई जगह सामने आ चुके हैं.

यह सब हमारी संस्कृति को बदनाम करने के लिए किया जा रहा हैउन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर भी इस तरह के मामलों को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया जा रहा है. संघ के सर सह कार्यवाह कृष्ण गोपाल, दतात्रेय होसबोले और भैया जी जोशी ने कहा कि संघ समाज में बिखराव रोकने के साथ ही इस तरह की साजिशों का भी पर्दाफाश भी करे.

कश्मीर में टेटर फंडिंग पर NIA की बड़ी कार्रवाई, बारामूला जिले में चार स्थानों पर छापेमारी

First published: 28 July 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी