Home » इंडिया » RSS opposes reservation for affluent sections
 

आरएसएस ने पूछा, संपन्न वर्गों को आरक्षण क्यों?

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2016, 13:30 IST

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने संपन्न वर्गों की आरक्षण की मांग को खारिज किया है. रविवार को नागौर में आरएसएस की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में संघ के सरकार्यवाह सुरेश भैयाजी जोशी ने कहा कि पिछड़े वर्ग के जरूरतमंद लोगों को आरक्षण का लाभ मिल रहा है या नहीं, इसकी समीक्षा होनी चाहिए.

सामाजिक समरसता की वकालत करते हुए भैयाजी जोशी ने कहा कि जाति आधारित भेदभाव के लिए हिंदू समुदाय के सदस्य जिम्मेदार हैं और हमें सामाजिक न्याय के लिए इसे समाप्त करना होगा.

संपन्न लोगों की आरक्षण की मांग को नामंजूर करते हुए जोशी ने कहा कि अंबेडकर ने सामाजिक न्याय के लिए आरक्षण के प्रावधान बनाये थे और आज आरक्षण की मांग कर रहे लोगों को इस अवधारणा को ध्यान में रखना चाहिए.

उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि यह सोच सही दिशा में नहीं है. ऐसे (समृद्ध) वर्ग के लोगों को अपने अधिकार छोड़ देने चाहिए और समाज के कमजोर तबके की मदद करनी चाहिए. लेकिन इसके बजाय वे अपने लिए आरक्षण की मांग कर रहे हैं जो सोच सही दिशा में नहीं है.

जोशी ने इस तरह की मांगों के लिए किसी वर्ग का सीधा उल्लेख नहीं किया लेकिन माना जा रहा है कि उनका इशारा जाट समुदाय की ओर था. जाट समुदाय ने हाल ही में आरक्षण के लिए हरियाणा में बड़ा हिंसक आंदोलन चलाया था.

First published: 14 March 2016, 13:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी