Home » इंडिया » Rss says surgical strikes give a message to pakistan that india can enter lahore anytime
 

'सर्जिकल स्ट्राइक ने पाकिस्तान को अहसास दिला दिया कि भारत कभी भी लाहौर में घुस सकता है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 July 2018, 13:25 IST

करीब 2 साल पहले 29 सितंबर को भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सीमा में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था, जिसका वीडियो अब सामने आया है. तब भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सीमा में तीन किमी भीतर घुसकर पाकिस्तानी बंकरों को बर्बाद किया था और आतंकियों को मौत के घाट उतारा था. इसे लेकर देश में राजनीति तेज है. राजनीतिक पार्टियों के बीच इसे लेकर खूब बयानबाजी चल रही है.

इस बयानबाजी में अब राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ यानि आरएसएस भी कूद पड़ा है. आरएसएस नेता इन्द्रेश कुमार का कहना है कि सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान को संदेश गया है कि भारत किसी भी वक्त लाहौर में घुस सकता है. 

 

देश कि वर्तमान हालात पर एक व्याख्यान देते हुए आरएसएस नेता ने कहा कि सुरक्षा बलों ने जम्मू कश्मीर में गठबंधन सरकार के कार्यकाल में कम से कम 300 आतंकवादियों का सफाया किया. हमने कश्मीर में सरकार बनाई और हम तीन चार महत्वपूर्ण काम करने में सफल भी रहे. काम हो गया, तब हमने सरकार का साथ छोड़ दिया, हमने कुर्बानी दी.

उन्होंने कहा कि सेना, पुलिस, एनआईए और खुफिया ब्यूरो को आतंकवाद के लिए आर्थिक मदद मुहैया कराने वाले नेटवर्ट का सफाया करने के लिए पूरी तरह से छूट दी गई.

इंद्रेश कुमार ने पीडीपी का नाम तो नहीं लिया लेकिन उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक जम्मू-कश्मीर सरकार के सहयोग के बिना संभव नहीं था. उन्होंने कहा कि हमने सर्जिकल स्ट्राइक की, यह पाकिस्तान को एक संदेश था कि हम किसी भी वक्त लाहैर में घुस सकते हैं, इसलिए सावधान रहो.

पढ़ें- GST एक साल: मोदी सरकार का तोहफा, इन सामानों पर जीएसटी कम करने के दिए संकेत

दरअसल, पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में भारतीय सेना के कैंप पर 18 सितंबर को हमला किया गया. इस हमले के 11 दिन बाद भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था. इस दौरान भारतीय सेना ने रॉकेट लॉन्चर, मिसाइलों और छोटे हथियारों से हमला किया था. इसकी चर्चा देश में ही नहीं विदेशों में भी हुई थी.

First published: 1 July 2018, 13:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी