Home » इंडिया » RSS- VHP buildings change the name of West Bengal's Islampur to Iswarpur overnight
 

अब रातों रात बदल दिया गया इस शहर का नाम, इस्लामपुर से कर दिया ईश्वरपुर

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2018, 16:46 IST

उत्तर प्रदेश के दो शहरों के बाद अब नाम बदलने की राजनीति पश्चिम बंगाल पहुंच चुकी है. यहां सरकारी कागजों में दर्ज उत्तर दीजापुर के इस्लामपुर को अज्ञात लोगों ने रातों-रात ईश्वरपुर बना दिया. रात में सोने के बाद जब लोग सुबह उठे तो देखा कि आरएसएस और वीएचपी के स्कूल दफ्तरों और गाड़ियों पर इस्लामपुर की जगह इश्वरपुर लिखा हुआ था.

RSS द्वारा चलाए जा रहे स्कूलों सरस्वती शिशु मंदिर और सरस्वती विद्या मंदिर के बोर्डों पर भी इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिखा मिला. इस बाबत जब स्कूल के प्रिंसिपल से जानकारी मांगी गई तो प्रिंसिपल ने बताया कि उन्हें भी इस बात की कोई जानकारी नहीं है.

इतना ही नहीं स्कूल में बच्चों को लाने ले जाने वाली कैब पर भी नाम बदलकर ईश्वरपुर लिख दिया गया है. वहीं स्कूल के सरकारी दस्तावेजों में नाम अभी भी इस्लामपुर ही है. इसके साथ ही वीएचपी दफ्तर के बोर्ड पर भी इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिख दिया गया.

बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज और फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या किया है. नाम बदलने के बाद लोग सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि योगी सरकार हिंंदुत्ववादी विचारधारा लोगों पर थोपना चाहती है.

वहीं अब खबर आ रही है कि अयोध्या में मांस और मदिरा पर बैन लगाने की तैयारी हो रही है. यूपी सरकार अयोध्या में चौदह कोसी परिक्रमा के आसपास के इलाके और मथुरा में भगवान कृष्ण के जन्म स्थान के आसपास के इलाके को तीर्थ स्थान घोषित करने की योजना पर काम कर रही है. इन दोनों स्थानों के तीर्थ स्थान घोषित हो जाने पर यहां खुद ही मांस-मदिरा की बिक्री पर प्रतिबंध लग जाएगा.

First published: 13 November 2018, 16:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी