Home » इंडिया » RSS writes to PM modi Flipkart Walmart deal is anti national
 

RSS ने PM मोदी को लिखा लेटर, मेक-इन-इंडिया को मार देगी Flipkart-Walmart डील

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 May 2018, 12:45 IST

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिख कर वालमार्ट और फ्लिपकार्ट के बीच हुई डील को अनैतिक बताया है. आरएसएस के आनुषांगिक संगठन स्वदेशी जागरण मंच का कहना है कि अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट और भारतीय फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सेदारी 'राष्ट्रहित के खिलाफ' है.

संगठन स्वदेशी जागरण मंच का दावा है 16 अरब की ये डील मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी मेक इन इंडिया अभियान को नुकसान पंहुचाएगी. स्वदेशी जागरण मंच ने पीएम को लिखी चिट्टी में इस बात का जिक्र किया कि मल्टी ब्रांड रिटेल में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश उद्यमशीलता और रोजगार पैदा करने के अवसरों को ख़त्म करेगा, जोकि 'किसान विरोधी' है.

ये भी पढ़ें- जस्टिस चेलमेश्वर ने CJI से चिट्ठी में कहा- केंद्र सरकार के पास जल्द भेजें जस्टिस केएम जोसेफ का नाम

मंच का कहना है कि वॉलमार्ट भारतीय बाजार पर कब्ज़ा करने के लिए ई-कॉमर्स का उपयोग कर रहा है, जिसमें वो नियमों को अनदेखा करते हुए बाजार पर कब्ज़ा करना चाहता है.मंच ने आरोप लगाया कि वॉलमार्ट के पास कोई मार्किट प्लेस मॉडल नहीं है. मंच ने कहा है कि वो इस बात से दुखी हैं और भरी मन से इस उम्मीद में पात्र लिख रहे है कि प्रधानमंत्री इस मामले में हस्तक्षेप करेंगे.

पत्र में लिखा है कि इस डील से लघु और मध्यम व्यापार, छोटी दुकानें और ज्यादा से ज्यादा रोजगार पैदा करने के मौके के खत्म हो जायेंगे. मंच ने कहा है, "हमें विश्वास है कि आप हस्तक्षेप करेंगे और ये सुनिश्चित करेंगे कि आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति का हित सुरक्षित रहे. वैश्विक स्तर पर छह बड़े देशों के बाद वॉलमार्ट चीनी सामानों का सबसे आयातक है, और उसका नंबर सातवां है.

ये भी पढ़ें- आर्मी चीफ ने कश्मीरी युवाओं से कहा- नहीं मिलेगी आजादी, सेना के साथ नहीं लड़ सकते

इन प्रोडक्ट्स में वे लगातार निवेश करना जारी रखेंगे, जो हमारे छोटे और मध्यम कारोबारियों को खत्म कर देंगे. और आगे ये मेक इन इंडिया के सपने को भी मार देंगे. हम ये भी जानते हैं कि वे फूड के मल्टी ब्रैंड रिटेल में दिलचस्पी रखते हैं, और इन दोनों का संयुक्त उपक्रम किसानों के हित को खत्म कर देगा."

First published: 10 May 2018, 12:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी