Home » इंडिया » S-400 missile deal: five Russian S-400 Triumf missile shield systems has been signed by India
 

S-400 मिसाइल डील पर लगी मुहर, 400KM दूर से ही दुश्मन की मिसाइल होगी ध्वस्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 October 2018, 15:38 IST

लम्बे समय से चर्चा में चल रही भारत और रूस के बीच S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील पर मुहर लग गई है. इस डील के अंतर्गत भारत रूस से एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम के 5 सेट खरीदेगा. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस मसौदे पर द्विपक्षीय वार्ता के बाद हस्ताक्षर किए.

इस डील के बाद भारत की सांय उपकारों की मारक क्षमता और ज्यादा बढ़ जाएगी. इस डील के तहत दो मिसाइलें एस-400 और थाड दोनों ही एयर डिफेंस मिसाइल हैं, लेकिन इन दोनों की क्षमताओं में बहुत अंतर है. एक तरफ जहां S-400 300 किलोमीटर की रेंज तक प्रहार कर सकता है. और ये 'फायर एंड फॉरगेट' की नीति के तहत काम करता है. वहीं थाड सिंगल लेयर डिफेंस प्रणाली के अंतर्गत करता है.

 

भारत के पास अब S-400 की मारक क्षमता होगी, जिसके साथ अब 400 किमी के दायरे में किसी भी मिसाइल को नष्ट कर सकेगा. S-400 4,800 मीटर प्रति सेकेंड वाले टारगेट को आसानी से तबाह कर सकता है. इतना ही नहीं ये आधुनिक मिसाइल S-400 ट्रंफ मिसाइल एक साथ 100 तक हवाई खतरों को भांप सकता है. S-400 लगभग 400 किमी के दायरे में किसी भी विमान, मिसाइल और ड्रोन को तबाह कर सकता है.

ढाबे में खाने के साथ बेचा जाता था हवाई-जहाज का तेल, विमान ईंधन का ऐसे करते थे इस्तेमाल

इतना ही नहीं ये एक साथ तीन दिशाओं में मिसाइल दाग सकता है. वहीं अमेरिकी थाड डिफेंस सिस्टम कोई विस्फोटक न होकर टारगेट के तहत काम करता है. थाड टारगेट को निशाना बनाता है. S-400 रोड मोबाइल की खास बात ये है कि कमांड मिलने के पांच से 10 मिनट के अंदर ही इसे तैनात किया जा सकता है.

First published: 5 October 2018, 14:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी