Home » इंडिया » Sabarimala Temple: 2 women entered in temple break 40 years of tradition
 

40 साल की परंपरा तोड़ 2 महिलाओं ने सबरीमाला मंदिर में किया प्रवेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 January 2019, 10:38 IST
(File Photo)

केरल के सबरीमाला मंदिर में एंट्री को लेकर चल रहे विवाद के बीच आखिरकार दो महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश करके 40 साल पुरानी परंपरा को तोड़ दिया है. भारी विरोध के बीच सबरीमाला मंदिर में 50 साल से कम उम्र की दो महिलाओं ने सुबह करीब 3.45 बजेप्रवेश किया. सुरक्षा की दृष्टि से इन दोनों महिलाओं के साथ पुलिसकर्मी साधारण कपड़ों में मौजूद थे. वहीं कुछ पुलिस ड्रेस में भी तैनात थे.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बिंदु और कनकदुर्गा नाम की इस दो दोनों महिलाओं ने आधी रात को ही मंदिर की सीढ़ियां चढ़ना शुरू कर दिया था और सुबह तककरीबन 3.45 पर मंदिर में प्रवेश करके भगवान के दर्शन किए. वहीं इस मामले में प्रधानमंत्री मोदी ने न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए एक इंटरव्यू में इस बारे में सवाल पूछे जाने पर कहा, ''सबरीमाला ही नहीं देश में कई ऐसे मंदिर हैं, जहां पर परंपरा के मुताबिक पुरुषों की एंट्री प्रतिबंधित है. वहां इसका पालन किया जाता है. इस पर किसी को समस्या नहीं होती. अगर लोगों की आस्था है कि सबरीमाला मंदिर में महिलाओं का प्रवेश न हो तो उसका भी ख्याल रखा जाना चाहिए.''

सबरीमाला मंदिर पर SC के फैसले के खिलाफ हिंदू संगठनों का प्रदर्शन, महिलाओं की एंट्री का कर रहे विरोध

गौरतलब है कि सबरीमाला मंदिर में पिछले कई दशकों से चली आ रही महिला प्रवेश निषेध की परंपरा को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया था. सबरीमाला मंदिर में 10 साल से लेकर 50 साल तक की उम्र वाली महिलाओं के प्रवेश पर रोक थी. जिसके खिलाफ देश की सर्वोच्च अदालत ने 28 सितंबर को अपना फैसला सुनाया और हर उम्र की महिलाओं के लिए इस मंदिर के दरवाजे खुल गए. हालांकि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी कई हिन्दू संगठन और मंदिर प्रशासन लगातार इसका विरोध करते आ रहे हैं.

First published: 2 January 2019, 10:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी