Home » इंडिया » Sachin Tendulkar adopts Donja village under Sansad Adarsh Gram Yojna
 

सचिन तेंदुलकर ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत दोंजा गांव को लिया गोद

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2016, 7:36 IST
(पीटीआई)

महान क्रिकेटर और राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले के दोंजा गांव को गोद लिया है.

सांसद आदर्श ग्राम योजना गांवों के निर्माण और विकास हेतु कार्यक्रम है जिसका मुख्य लक्ष्य ग्रामीण इलाकों में विकास करना है. इस कार्यक्रम का शुभारंभ भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जयप्रकाश नारायण के जन्म दिन 11 अक्टूबर 2014 को किया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत सभी सांसदों से विकास के लिए एक-एक गांव का चयन करने का आग्रह किया था और कहा था कि ये विकास आपूर्ति पर आधारित मॉडल के बजाय मांग और जरूरत तथा जनता की भागीदारी पर आधारित होना चाहिए.

इसके साथ ही उन्होंने सांसद आदर्श योजना की तीन अनूठी विशेषताएं को तय किया था. प्रधानमंत्री ने इसे मांग पर आधारित, समाज द्वारा प्रेरित हो और इसमें जनता की भागीदारी होने की बात भी कही थी.

उस्मानाबाद जिला परिषद के सीईओ आनंद रायते ने कहा, ‘हमें खुशी है कि तेंदुलकर ने दोंजा गांव को चुना है. हमें उम्मीद है कि इससे दूसरे गांवों को भी विकास के इस मॉडल को अपनाने की प्रेरणा मिलेगी.’ 

आदर्श ग्राम योजना के तहत सचिन द्वारा गोद लिया गांव उस्मानाबाद पिछले काफी साल से सूखे की चपेट में है और यहां किसानों की आत्महत्या की घटनायें भी बढी हैं.

वहीं गांव की भौगौलिक स्थिति की बात करे तो वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार गांव में लगभग 582 परिवारों रहते हैं. गांव की पूरी आबादी लगभग 2,863 जिनमें 1,508 पुरुष जबकि 1,355 महिला हैं. गांव का औसत लिंग अनुपात 899 है, जो महाराष्ट्र के औसत लिंग अनुपात 929 से कम है.

साक्षरता की बात करे तो साल 2011 के आंकड़ो के मुताबिक गांव की 72.17 प्रतिशत लोग साक्षर हैं जबकि महाराष्ट्र साक्षरता दर 82.34% है.

First published: 19 August 2016, 7:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी