Home » इंडिया » Sadhvi Prachi says Muslim women should marry Hindu man to escape halala
 

साध्वी प्राची बोलीं- हलाला से बचने के लिए मुस्लिम महिलाएं धर्म बदलकर करें हिंदुओं से शादी

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2018, 9:15 IST

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की पूर्व नेता साध्वी प्राची ने मुस्लिम लड़कियों को एक अजीब सलाह देकर नए विवाद को जन्म दे दिया है. साध्वी प्राची ने लगभग विवादित बयान देते हुए कहा कि मुस्लिम लड़कियों को धर्म परिवर्तन कर हिंदू लड़कों से शादी करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि क्योंकि इस्लाम एक 'खतरनाक धर्म' है जिसकी वजह से उनकी जिंदगी बर्बाद हो सकती है.

साध्वी प्राची ने इसके आगे कहा कि धर्म परिवर्तन कर हिंदुओं से शादी करने से मुस्लिम लड़कियां खुद को तीन तलाक और हलाला जैसी डरावनी कुरीतियों से बचा सकती हैं. उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म में शामिल होकर मुस्लिम महिलाएं खुद को जिंदगी भर के उत्पीड़न और धमकियों से भी बचा सकती हैं.

पढ़ें- शिवराज ने अमिताभ बच्चन को पढ़ाई में बताया कमजोर, कांग्रेस बोली- ये भोपाल के दामाद की बेइज्जती

उन्होंने कहा कि तीन तलाक की पीड़ित महिलाओं को ऐसे मौलानाओं को तमाचा मारना चाहिए जो हलाला करने या फिर धर्म से निकालने की धमकी देते हैं. प्राची ने मथुरा के वृंदावन में ये बातें कही थीं.

प्राची के इस बयान के बाद बवाल मच गया है. उनके बयान पर देवबंदी उलमा नाराज हो गए हैं. उलमा का कहना है कि सभी धर्मों के अपने पर्सनल लॉ होते हैं, जिसके तहत वह अपनी जिंदगी गुजारते हैं. इसमें किसी को हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है. उलमा ने कहा कि साध्वी प्राची का बयान मुल्क में नफरत फैलाने की साजिश है.

पढ़ें- शिवराज सरकार का नया आदेश, यस सर- यस मैम की जगह केवल 'जय हिंद' बोलें छात्र

उनके बयान पर मदरसा जामिया हुसैनिया के वरिष्ठ उस्ताद मौलाना मुफ्ती तारिक कासमी ने कहा कि जिस तरह किसी हिंदू लड़की की शादी मुस्लिम लड़के से नहीं हो सकती ठीक उसी तरह किसी मुस्लिम लड़की की शादी भी हिंदू लड़के से नहीं हो सकती. उन्होंने कहा कि हलाला को गलत ढंग से पेश कर देश की जनता और सेक्यूलर लोगों को गुमराह किया जा रहा है. साध्वी प्राची हमारे पास आएं तो हम उन्हें समझाएंगे की हलाला क्या है और उसकी हकीकत क्या है.

First published: 2 August 2018, 9:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी