Home » इंडिया » Samajwadi Party boycott house for security threat of former CM Akhilesh Yadav
 

'अखिलेश यादव को जान से मरवाना चाहती है BJP, रैली में युवक ने लगाया था जय श्रीराम का नारा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 February 2020, 15:19 IST

Akhilesh Yadav Threat: उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) ने उनपर जानलेवा(Murder Threat) हमले की आशंका जताई. इसे लेकर उनकी समाजवादी पार्टी(Samajwadi Party) ने विधानसभा में बजट सत्र(Budget Session) का बहिष्कार किया. समाजवादी पार्टी ने अखिलेश यादव की सुरक्षा को लेकर उत्तर प्रदेश विधानसभा(UP Assembly) में जमकर हंगामा भी किया.

बजट सत्र की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष के नेता और सपा दिग्गज राम गोविंद चौधरी(Ram Govind Chowdhary) ने अखिलेश यादव की सुरक्षा के मुद्दे पर तत्काल चर्चा की मांग की. उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी(BJP) सपा प्रमुख की हत्या करवाना चाहती है. अखिलेश यादव की रैली में युवक द्वारा लगाए गए जय श्रीराम(Jai Sriram) के नारे का मुद्दा भी उन्होंने उठाया.

हालांकि विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने अखिलेश यादव की सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा करने के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया. इसके बाद सपा विधायक जोर-जोर से नारेबाजी करने लगे. इसके कारण विधानसभा की कार्यवाही को स्थगित करना पड़ा.

विधानसभा की कार्यवाही रद्द होने के बाद मीडिया से बात करते हुए राम गोविंद चौधरी ने कहा कि सपा अध्यक्ष की बढ़ती लोकप्रियता से भाजपा डरी हुई है. इसके बाद कुछ भाजपा समर्थक उन्हें धमकी दे रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने राजनीति के अपराधीकरण के मुद्दे पर भी बात की है और अगर अखिलेश यादव को कोई नुकसान होता है, तो सपा कार्यकर्ता शांत नहीं रहेंगे.

इससे पहले अखिलेश यादव की रैली का एक वीडियो वायरल हुआ था. इस वीडियो में भरी सुरक्षा के बीच अखिलेश यादव के सामने एक युवक जय श्रीराम का नारा लगाने लगा था. इसके बाद अखिलेश यादव की पुलिसकर्मियों से झड़प भी हुई थी. अखिलेश यादव ने यह भी दावा किया था कि उन्हें भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने धमकी भरे कॉल और मेसैज किए थे.

अखिलेश ने शनिवार को कन्नौज में अपने पार्टी कार्यालय में समारोह को संबोधित करते हुए दावा किया था कि एक भाजपा नेता से उन्हें जान का खतरा है. उन्होंने दावा किया था कि भाजपा नेता ने उन्हें कॉल और मैसेज भेजकर धमकी दी है. इस मेसैज को उन्होंने फोन पर सुरक्षित रखा है और जल्द ही मुद्दे पर मीडिया को संबोधित करने की बात कही थी.

बिना हाथ धोए छू लिया भण्डारे का खाना, दलित पर हुआ त्रिशूल से हमला

कोरोना वायरस है चीन के शैतानी दिमाग की उपज, वैज्ञानिकों का दावा- सरकारी लैब से फैलाया गया

First published: 17 February 2020, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी