Home » इंडिया » Sanjay Raut: India will be Congress free if BJP keeps nation drought free
 

शिवसेना की पीएम मोदी को नसीहत, कांग्रेसमुक्त नहीं सूखामुक्त भारत बनाने पर दें ध्यान

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2016, 13:38 IST

चुनावों में कांग्रेस मुक्त भारत का नारा देने वाली बीजेपी पर शिवसेना ने चुटकी ली है.पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा है कि केंद्र सरकार देश को सूखामुक्त करने पर ध्यान दे. देश अपने आप कांग्रेसमुक्त हो जाएगा.

राउत ने कहा, "देश जब तक सूखा मुक्त नहीं हो जाता, तब तक कांग्रेस मुक्त भारत का कोई मतलब नहीं है. आप (मोदी जी) सूखा मुक्त भारत करिए, अपने आप देश कांग्रेस मुक्त हो जाएगा. सूखा 50 साल की देन है."

shivsena2

'मराठवाड़ा का दौरा करें पीएम'

देश में सूखे की समस्या को बेहद गंभीर बताते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से सूखे से सबसे ज्यादा प्रभावित बुंदेलखंड और मराठवाड़ा के जिलों का दौरा करने की अपील की है.

पढ़ें:सूखे के सरकारी आंकड़े ही सिहरन पैदा करने के लिए काफी हैं

राज्यसभा में सूखे की स्थिति पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए राउत ने कहा कि 256 जिलों में सूखे के कारण देश की एक तिहाई आबादी प्रभावित है और हालात बदतर होते जा रहे हैं. 

राउत ने कहा कि प्रधानमंत्री दुनिया में घूम रहे हैं, देश में भी उनके दौरे हो रहे हैं इसलिए वो अपील करते हैं कि पीएम मराठवाडा के जिलों में भी जाएं, जिससे वहां के हालात कुछ सुधर सकें.

सूखा-भूखमुक्त भारत बनाने की अपील

राउत ने उमीद जताई कि मोदी उनका अनुरोध स्वीकार कर इन जिलों में जायेंगे. राउत ने कहा कि जब एनडीए की सत्ता आई थी, तो हमने कांग्रेस मुक्त भारत की बात कही थी लेकिन अभी सूखा और भूख मुक्त भारत बनाने की जरूरत है. यदि ऐसा भारत बन जाता है तो वो कांग्रेस मुक्त अपने आप बन जायेगा.

इसके कुछ दिन पहले ही सूखे की समस्या को लेकर शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के जरिए महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि सरकार द्वारा बीयर फैक्ट्रियों को दिया जाने वाला पानी सूखा प्रभावित क्षेत्रों को क्यों नहीं दिया जा सकता?

शिवसेना नेता ने कहा कि सरकार ने बैंकों से अरबों रुपये का कर्ज लेने वाले विजय माल्या को तो देश से भागने दिया गया, जबकि सूखे और कर्ज से परेशान किसानों के कर्ज माफ नहीं किए गए.

पढ़ें:सूखा-बाढ़ प्रभावित तीन राज्यों को केंद्र से 842 करोड़ की मदद

भारत माता की जय बोलने को लेकर चल रहे विवाद पर संजय राउत ने कहा, "लोग बिना धर्म और जाति की परवाह किए भारत माता की जय बोलेंगे अगर उनके पेट भरे होंगे. 33 करोड़ लोगों को भूख और गरीबी की ओर धकेलना, ये एंटी नेश्नलिज्म है."

First published: 28 April 2016, 13:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी