Home » इंडिया » Santosh Gangwar: withdrawal cap is not necessary from 1 January
 

वित्त राज्यमंत्री: 1 जनवरी से ख़त्म हो सकती है नकद निकासी की सीमा

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(फाइल फोटो)

नोटबंदी के बाद अपने ही पैसों के लिए लंबी लाइन में खड़ी देश की जनता के लिए सरकार की यह खबर राहत देने वाली हो सकती है. केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री संतोष गंगवार ने को कहा कि नकदी निकासी की अधिकतम सीमा एक जनवरी से हटाई जा सकती है.

गंगवार के मुताबिक रोजाना 25-30 करोड़ के नये नोट छापे जा रहे हैं. इस मामले में गंगवार ने कहा, "मुझे बताया गया है कि रोजाना 25-30 करोड़ नोट छापे जा रहे हैं. एक जनवरी से नकदी निकालने की अधिकतम सीमा हटाई जा सकती है."

उन्होंने कहा, "सीमित मात्रा में पैसे निकालने से आ रही परेशानी 30 दिसंबर से कम होगी. पिछले कुछ दिनों में लेन-देन में सुधार देखा जा सकता है."

गंगवार ने कहा, "हम जनता की परेशानी समझते हैं, लेकिन नए नोटों को पहले नहीं छापा जा सकता था, क्योंकि इससे नोटबंदी की खबर लीक होने का खतरा था."

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने बीते 8 नवंबर को 500 रुपये और 1000 रुपये के पुराने नोटों को किसी भी प्रकार के विनिमय के लिए अमान्य घोषित कर दिया था.

सरकार के इस फैसले के बाद देशभर में बैंकों के बाहर लोगों की लंबी-लंबी कतारें लग गई थीं, क्योंकि बैंकों को पर्याप्त मात्रा में नकदी मुहैया नहीं हो पा रही थी.

First published: 30 December 2016, 2:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी