Home » इंडिया » Satish Verma: RVS Mani lying, wants to weaken case
 

इशरत एनकाउंटर: एसआईटी के पूर्व प्रमुख सतीश वर्मा ने मणि के आरोपों को गलत बताया

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 March 2016, 14:47 IST
QUICK PILL

इशरत जहां एनकाउंटर मामले की जांच करने वाली एसआईटी के पूर्व प्रमुख सतीश वर्मा ने कहा है कि गृह मंत्रालय के पूर्व अवर सचिव आरवीएस मणि का जांच दल द्वारा सिगरेट से दागे जाने का आरोप पूरी तरह गलत है.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार वर्मा ने कहा है कि सीबीआई की जांच में कभी भी किसी आदमी के साथ ऐसी हरकत नहीं की जाती.

आरवीएस मणि ने आरोप लगाया था कि आईबी को फंसाने के लिए उन्हें एसआईटी ने मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया था.

वर्मा के इस बयान के बाद मणि ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि उनके पास आज भी वह पैंट सबूत के तौर पर मौजूद है, जिसे वर्मा ने सिगरेट से दागा था.

वर्मा ने कहा कि डेविड हेडली और लश्कर के इशरत को शहीद बताने के दावे के बावजूद एसआईटी की जांच में उसके आतंकियों से जुड़े होने के कोई सबूत नहीं मिले थे.

वर्मा ने कहा कि आईबी के अधिकारियों ने इन लोगों को गैर-कानूनी तरीके से अपनी कस्टडी में रखा और उसके बाद सुनियोजित तरीके से साल 2004 में इशरत जहां का मर्डर किया गया. 

First published: 3 March 2016, 14:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी