Home » इंडिया » SC quashed criminal complaint filed agnst cricketer Mahendra Singh Dhoni for allegedly depicting himself as Lord Vishnu in a magazine cover
 

माही को SC से मिली राहत, क्या है मैगजीन की कवर फोटो से जुड़ा विवाद?

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 April 2017, 17:18 IST
(मैगजीन का कवर पेज)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. अदालत ने आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में धोनी के खिलाफ चल रहे मामले को रद्द करने का आदेश दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी की कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने जान-बूझकर और किसी दुर्भावना के साथ ये काम नहीं किया है. उन पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप लगाया गया  था. मैगजीन के कवर पेज पर धोनी की हिंदुओं के आराध्य विष्णु के रूप में फोटो छपी थी.

सुप्रीम कोर्ट ने साथ ही कहा कि धोनी के खिलाफ कार्रवाई कानून का मजाक उड़ाना होगी. सुप्रीम कोर्ट ने साथ ही इंग्लिश मैगजीन के एडिटर के खिलाफ भी केस को रद्द कर किया है.

फाइल फोटो

क्या था पूरा विवाद?

इस मामले में दाखिल याचिका को कर्नाटक हाईकोर्ट ने खारिज करने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद धोनी ने सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका दाखिल की थी. 

अप्रैल 2013 में मैगज़ीन ने अपने कवर पेज पर धोनी की हिंदुओं के देवता विष्णु के रूप में तस्वीर छापी थी. इस मामले में धोनी के खिलाफ आंध्र प्रदेश की अनंतपुर कोर्ट ने जनवरी, 2016 में गैरजमानती वारंट जारी किया था.

सामाजिक कार्यकर्ता जयाकुमार हिरेमथ ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि धोनी पत्रिका के कवर पेज पर भगवान विष्णु के रूप में अपने हाथ में जूता पकड़े हुए हैं, जो हिन्दू देवता का अपमान है. साथ ही इससे एक धर्म के लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं. इसके बाद एडिशनल चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट ने धोनी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 295 और 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया था.

First published: 20 April 2017, 17:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी