Home » इंडिया » sc status to dalit encourage conversion: Gehlot
 

धर्मांतरण करने वालों दलितों को नहीं मिलेगा आरक्षण का लाभ: थावरचंद गहलोत

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 February 2016, 19:33 IST

केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने सोमवार को हिंदू नेतृत्व समागम के एक कार्यक्रम में कहा कि 'केंद्र सरकार ने कोर्ट में यह बात कही है कि अल्पसंख्यक समुदायों के दलितों को सरकारी नौकरियों में आरक्षण देने से धर्मांतरण को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है, लिहाजा उन्हें केंद्र सरकार ऐसे अधिकार देने पर सहमत नहीं है'. 

गौरतलब है कि कांग्रेस और यूपीए सरकार द्वारा गठित रंगनाथ मिश्रा आयोग और सच्चर आयोग की सिफारिशों में ईसाई और मुस्लिम समुदायों के दलितों को आरक्षण देने की बात कही गई थी.

केंद्रीय मंत्री गहलोत ने हिंदू नेतृत्व समागम के कार्यक्रम में रंगनाथ मिश्रा आयोग और सच्चर आयोग की सिफारिशों का जोरदार विरोध करते हुए कहा कि संविधान में उन दलितों को आरक्षण देने का कोई प्रावधान नहीं है, जो अन्य धर्मों में चले जाते हैं.

क्योंकि इससे अल्पसंख्यक समुदायों के दलितों को सरकारी नौकरियों में आरक्षण पाने के कारण धर्मांतरण को व्यापक समर्थन मिल सकता है.

हिंदू ऐक्य वेदी के इस कार्यक्रम मेंमंत्री ने इन कमेटियों की सिफारिशों का विरोध करते हुए कहा कि ऐसे किसी कदम से 'हिंदू धर्म कमजोर होगा'.

उन्होंने कहा कि, 'हमारी सरकार ने कोर्ट में लिखित में कहा है कि हम रंगनाथ मिश्रा कमेटी और सच्चर कमेटी की रिपोर्टों से सहमत नहीं हैं. हम उन लोगों को अनुसूचित जाति का दर्जा नहीं देंगे जो धर्मांतरण कर चुके हैं. इस मामले में हम संविधान का अक्षरश: पालन कर रहे हैं.

इस मामले में मंत्री ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि कि वह अल्पसंख्यक समुदायों को लाभ पहुंचाने के लिए अनुसूचित जाति, जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के कोटों को घटाने की साजिश रचने का प्रयास कर रही है.

First published: 16 February 2016, 19:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी